नई दिल्ली,एएनआइ। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने दिल्ली में आयोजित कई देशों के राजदूत के साथ बैठक में हिस्सा लिया। यहां उन्होंने कहा कि डिफेंस एक्सपो के आने वाले संस्करण में, यह कार्यक्रम 2025 तक एयरोस्पेस और रक्षा वस्तुओं और सेवाओं में लगभग 26 बिलियन अमेरिकी डॉलर का कारोबार हासिल करने के हमारे इरादे को प्रदर्शित करेगा। इस बैठक में 48 देशों के उच्चायुक्त और वरिष्ठ राजनायिकों सहित 83 देशों के प्रतिनिधियों शामिल हुए थे। 

राजनाथ सिंह ने आगे कहा कि हम उत्तर प्रदेश और तमिलनाडु में रक्षा गलियारों के लिए अपनी योजनाओं का प्रदर्शन करेंगे, जहां हमारे पास पहले से ही लगभग 1 बिलियन अमेरिकी डॉलर की निवेश प्रतिबद्धताएं हैं। डिफेंस एक्सपो 2020 में 100 से अधिक व्यावसायिक कार्यक्रमों और सेमिनारों की योजना बनाई जा रही है जिसमें उम्मीद है कि 1000 से अधिक प्रदर्शकों शामिल हो सकते हैं।

फरवरी में पांच से आठ फरवरी 2020 में डिफेंस एक्सपो

बता दें कि दिल्ली में पांच से आठ फरवरी 2020 तक डिफेंस एक्सपो का आयोजन किया गया है। इसके लिए देश-विदेश की 278 कंपनियों ने लगभग 77 प्रतिशत स्थान को बुक करा लिया है। राजनाथ सिंह ने एक्सपो के जरिए प्रदेश में हजारों करोड़ के निवेश की उम्मीद जताई है। उन्होंने कहा कि रक्षा उत्पादन में भारत को एक मजबूत साझेदार की तलाश है।

इस मामले में  गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा कि चार दिन डिफेंस एक्सपो के जरिए कंपनियों को उत्तर प्रदेश में निवेश करने के फायदे बताए जाएंगे। निवेशकों को किसी तरह की कोई परेशानी ना हो उसके लिए निवेश मंत्र पोर्टल भी बनाया गया है। उन्होंने कहा कि कंपनियों ने निवेश को लेकर उत्सुकता दिखाई है। अवस्थी ने बताया कि इस बार डिफेंस एक्सपो का थीम डिजिटल ट्रांसर्फोमेशन रखा गया है। इस एक्सपो के जरिए मित्र देशों के साथ अत्याधुनिक सैन्य प्रौद्योगिकी विकसित करने के साथ ही इस क्षेत्र क डिजिटल ट्रांसफार्मेशन करना है।

Posted By: Ayushi Tyagi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस