कोझिकोड, (प्रेट्र)। निपाह वायरस भारत में बड़ी तेजी से पांव पसार रहा है। केरल में निपाह वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़ती ही जा रही है। बुधवार को इसकी चपेट में आने के बाद दो लोगों की मौत हो गई। केरल में अभी तक निपाह वायरस से 15 लोगों की मौत हो चुकी है।

केरल में निपाह वायरस का कहर बढ़ता ही जा रहा है। कोझिकोड डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में पेशे से वकील 55 साल के पी. मधुसूदन और 28 वर्षीय अखिल निपाह वायरस की चपेट में आ गए। इन दोनों को इलाज के लिए अलग-अलग अस्पातल में भर्ती कराया गया था, लेकिन दोनों को बचाया ना जा सका। बताया जा रहा है कि अखिल निपाह से पीड़ित इलाके से नहीं थे। ऐसे में उनकी मौत और निपाह के बढ़ते कहर ने प्रशासन की चिंता बढ़ा दी है।

कोझिकोड और मलप्पुरम के अस्पतालों में करीब 200 संदिग्ध मरीजों का इलाज चल रहा है, इनमें से तीन मरीजों में निपाह वायरस होने की पुष्टि हो गई है। इलाज करते हुए चपेट में आए पांच चिकित्साकर्मियों को बेहतर इलाज के लिए दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल भेजा गया है।

केरल ही नहीं निपाह कई राज्यों में फैल रह है। पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में निपाह वायरस के संभावित संक्रमण से पहली मौत का मामला प्रकाश में आया है। अलीपुर के कमांड अस्पताल में भर्ती एक सैनिक की मौत रविवार को हो गई थी। सैन्य सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि केरल स्थित गांव में रहने के दौरान ही उन्हें वायरल बुखार हो गया था। संभावित निपाह संक्रमण की वजह से बेहतर इलाज के लिए उन्हें कोलकाता लाकर आर्मी के कमांड अस्पताल में गत 20 अप्रैल को भर्ती कराया गया था। केरल में ही जांच के दौरान निपाह वायरस के संभावित संक्रमण की पुष्टि हुई थी। उसके बाद बेहतर इलाज के लिए उन्हें कोलकाता लाया गया था। कमांड अस्पताल में लगातार इलाज चल रहा था। कई तरह के जांच भी हुए थे। इस बीच, रविवार को सीनू ने दम तोड़ दिया।

जानें, क्‍या है निपाह वायरस
निपाह वायरस भारत में बड़ी तेजी से पांव पसार रहा है। केरल से शुरू होने के बाद अब कर्नाटक, तेलंगाना में भी इसके कुछ मामले सामने आ चुके हैं। इतना ही नहीं केरल में इस खतरनाक वायरस से अब तक 13 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि करीब 200 संदिग्ध मरीजों का इलाज चल रहा है। इलाज करते हुए चपेट में आए पांच चिकित्साकर्मियों को बेहतर इलाज के लिए दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल भेजा गया है। केरल के कुछ जिलों में इसकी चपेट में आने के बाद यहां आने वाले पयर्टकों में भी इसको लेकर डर व्‍याप्‍त है। इसका असर साफतौर पर यहां ट्यूरिज्‍म इंडस्‍ट्री पर भी पड़ता हुआ दिखाई दे रहा है।

राज्‍यों में हाईअलर्ट
इसके अलावा बिहार, हरियाणा और सिक्किम में इस खतरनाक वायरस को हाईअलर्ट जारी किया गया। इसके साथ ही लोगों को इसके प्रति जागरुक करने के अलावा अस्‍पतालों, होटलों आदि में विशेष निगरानी रखी जा रही है। जिन राज्‍यों में इस वायरस का प्रकोप फैला हुआ है वहां से आने वाले लोगों पर निगाह रखी जा रही है। इसको लेकर राज्‍य सरकारों ने अपने यहां पर एडवाइजरी भी जारी की है। केरल सरकार ने प यर्टकों को कोझिकोड, मलप्पुरम, वायनाड और कन्नूर जिलों की यात्रा न करने की सलाह दी है। एडवाइजरी के अनुसार फिलहाल इन जगहों पर निपाह वायरस फैलने का खतरा सबसे ज्यादा बना हुआ है। इस देखते हुए आसपास के राज्यों समेत खासतौर पर पर्यटकों को सलाह दी गई है।

Posted By: Arti Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप