नई दिल्ली (जागरण न्यूज नेटवर्क)। पूरे उत्तर भारत में 15 हजार तालाबों को नया जीवन देने के बाद दैनिक जागरण का पौधरोपण अभियान भी 10 राज्यों के करीब 250 जिलों में सफलता के नए मुकाम को छू रहा है। इस अभियान के तहत 10 करोड़ पौधे लगाने का लक्ष्य है। अनंत हरियाली थीम वाले इस अभियान के तहत उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, बिहार, झारखंड, हरियाणा, दिल्ली समेत अन्य राज्यों में प्रतिदिन लाखों पौधे एक साथ लगाए जा रहे हैं। अभियान का श्रीगणेश पिछले हफ्ते बिहार से हुआ था।

हमें इस बात का संतोष है कि तालाबों की तलाश मुहिम के बाद इस मानसून में कई तालाब पानी से लबालब भर चुके हैं। हम तब तक नहीं थमेंगे जब तक इन तालाबों के किनारे की धरा हरी-भरी न हो जाए। आज पूरे विश्व में मौसम चक्र में उलटफेर हो गया है। बेशक इस बार मानसून समय से आ गया है पर हम अभी उन दिनों को नहीं भूले हैं जब सावन-भादो में भी बारिश नहीं होती थी। किसान खून के आंसू रोता था। अभी बीते ठंड के मौसम की बात करें तो दिसंबर के बजाय हम फरवरी में ही सर्दी को शिद्दत से महसूस कर पाए।

देश-विदेश में ग्लोबल वार्मिग पर नियंत्रण पाने के लिए सैकड़ों बैठकें हो चुकी हैं, पर कोई स्थायी निदान अब तक नहीं ढूंढा जा सका है। फसल चक्र भी बिगड़ चुका है। लगातार पैदावार में गिरावट आने से किसानों की परेशानी बढ़ती जा रही है। पर्यावरण प्रदूषण के चलते लोग किस्म-किस्म की बीमारियों का शिकार हो रहे हैं। इन सबके के पीछे जो सबसे बड़ा कारण है, वह यह कि हमने पहले पेड़ों को अंधाधुंध तरीके से काटा। जंगल के जंगल खत्म कर दिए गए। पर्यावरण असंतुलन पर नियंत्रण पाने के लिए और अपने सामाजिक सरोकारों को निभाने के लिए ही दैनिक जागरण ने 10 राज्यों में एक साथ पौधरोपण अभियान चलाए हुए है।

Posted By: Kamal Verma