नई दिल्ली, जागरण ब्यूरो। सभी सक्षम निजी अस्पतालों को टीकाकरण की अनुमति देने के बाद अब सरकार ने 24 घंटे टीकाकरण की मंजूरी भी दे दी है। सरकार का कहना है कि देश में टीके की कोई कमी नहीं है। पर्याप्त होने पर टीकाकरण केंद्रों पर किसी भी समय टीका लगाया जा सकता है। राज्य सरकारों को वैक्सीन रखने की व्यवस्था और प्रशिक्षित कर्मियों की उपलब्धता को देखते हुए किसी भी निजी अस्पताल को कोरोना के वैक्सीन सेंटर के रूप में इस्तेमाल की इजाजत दी गई है। 

सभी सक्षम निजी अस्पतालों में टीकाकरण की भी दी जा चुकी है अनुमति

स्वास्थ्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीन देने के दौरान कोविन प्लेटफार्म पर कुछ दिक्कतों का सामना करना पड़ा था, जिसे बाद में सुधार दिया गया। पहली मार्च से 60 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों और 45 साल से अधिक के ऐसे लोगों का टीकाकरण शुरू हुआ है, जो किसी गंभीर बीमारी से ग्रस्त हैं। इनके लिए रजिस्ट्रेशन की शुरुआत भी उसी दिन से की गई। पहले दिन की छोटी-मोटी दिक्कतों के बाद दूसरे और तीसरे दिन कोविन प्लेटफार्म बड़ी संख्या में पंजीकरण व अन्य जानकारी से लेकर टीका लगाने का प्रोविजनल सर्टिफिकेट जारी में सफल रहा। देशभर में हेल्थवर्कर्स, फ्रंटलाइन वर्कर्स और अन्य लोगों को मिलाकर डेढ़ करोड़ से ज्यादा को टीका लगाया जा चुका है।

राज्यों को किसी भी स्तर पर अतिरिक्त टीका जमा नहीं करने की दी गई सलाह

स्वास्थ्य मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि देश में वैक्सीन की कोई कमी नहीं है। वैक्सीन सेंटर तक इन्हें पहुंचाने के लिए कोल्डचेन से लेकर लाभार्थी को लगाने तक की जिम्मेदारी राज्य सरकारों की है। उन्होंने कहा राज्य सरकारों को वैक्सीन के लिए कोल्डचन, वैक्सीन लगाने के बाद किसी प्रतिकूल असर की स्थिति में ब्लॉक, जिला और राज्य स्तर पर प्रबंधन, वैक्सीन देने वाले स्वास्थ्य कर्मियों और वैक्सीन के लिए पर्याप्त स्थान की उपलब्धता के आधार पर अधिक से अधिक निजी अस्पतालों में वैक्सीन सेंटर खोलने की सलाह दी गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह भी कहा है कि जरूरत के मुताबिक राज्यों को वैक्सीन की सप्लाई की जाएगी। कोई भी राज्य जिला या ब्लॉक स्तर या फिर वैक्सीन सेंटर पर जरूरत से अधिक वैक्सीन जमा नहीं करे।

राष्ट्रपति ने लगवाया टीका

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बुधवार को दिल्ली के आर्मी रिसर्च एंड रेफरल हॉस्पिटल में टीका लगवाया। कोविंद ने दुनिया के इस सबसे बड़े टीकाकरण अभियान में सफल बनाने में जुटे सभी डॉक्टरों, नर्सो, स्वास्थ्यकर्मियों एवं प्रशासनिक अधिकारियों का धन्यवाद किया और सभी पात्र नागरिकों से आगे आने और टीका लगवाने की अपील की।

 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021