नई दिल्ली, जागरण ब्यूरो। कोरोना महामारी की दूसरी लहर में पहली बार संक्रमण के मामलों में कमी आने के प्रारंभिक संकेत मिले हैं। दो महीने बाद मंगलवार को पूरे देश में स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या नए संक्रमितों से ज्यादा दर्ज की गई। राष्ट्रीय स्तर पर संक्रमण दर में भी गिरावट देखी गई है। दूसरी लहर में सबसे अधिक प्रभावित दिल्ली, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र जैसे राज्यों में नए मामलों में लगातार गिरावट का रुख बना हुआ है। हालांकि, पंजाब, ओडिशा, बंगाल, केरल और कर्नाटक जैसे डेढ़ दर्जन से ज्यादा राज्यों में बढ़ते मामले अभी भी चिंता का कारण बने हैं। 

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना के कुल 3,29,992 नए संक्रमित पाए गए। जबकि, इस दौरान पूरी तरह से संक्रमण मुक्त होने वाले मरीजों की संख्या संख्या 3,56,082 रही। इस तरह सक्रिय मरीजों की संख्या में दो महीने बाद पहली बार कमी देखने को मिली है। दूसरी लहर में एक दिन में सबसे अधिक 4,14,188 नए मामले सात मई को आए थे, उसके बाद उसमें लगातार कमी देखने को मिल रही है। आठ मई को 4,01,078, नौ मई को 4,03,738 और 10 मई को 3,66,161 नए मामले पाए गए।

कोरोना से होने वाली दैनिक मौतों में भी कमी हो रही है। नौ मई को 4,092 की तुलना में 10 मई को 3,754 और 11 मई को 3,876 मौतें दर्ज की गईं। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार 18 राज्य या केंद्र शासित प्रदेश ऐसे हैं, जहां केस में बढ़ोतरी या तो रुक गई है या उनमें कमी आ रही है।। इन राज्यों में महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, मध्य प्रदेश, हरियाणा, बिहार, उत्तराखंड, झारखंड और छत्तीसगढ़ शामिल हैं।

लखनऊ, कानपुर, पटना और भोपाल में कम हो रहे केस

केंद्रीय संयुक्त स्वास्थ्य सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि उत्तर प्रदेश के लखनऊ, कानपुर और वाराणसी, बिहार के पटना और मध्य प्रदेश के भोपाल में नए मामलों में तेज गिरावट आ रही है जो अच्छा संकेत है। वहीं हिमाचल प्रदेश, पंजाब, जम्मू-कश्मीर, पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों में केस में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है, जो चिंता का कारण है।

182 जिलों में संक्रमण दर में गिरावट

मंत्रालय के मुताबिक 27 अप्रैल को देश में संक्रमण दर 19 फीसद थी जो अब गिरकर 18 फीसद हो गई है। 14 दिन बाद संक्रमण दर में कमी संक्रमण के थमने का पुख्ता संकेत हैं। देश के कुल 182 जिलों में संक्रमण दर में कमी दर्ज की गई है और ऐसे जिलों की संख्या लगातार बढ़ रही है।

533 जिलों में संक्रमण दर 10 फीसद से ज्यादा

देश के 533 जिलों में अभी भी कोरोना संक्रमण दर 10 फीसद से अधिक बनी हुई है, जो चिंता का कारण है। इनमें से उत्तर प्रदेश के 38, मध्य प्रदेश के 45, बिहार के 33, हरियाणा के 22, पंजाब और झारखंड के 18-18, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के 12-12 और दिल्ली के 11 जिले शामिल हैं। लव अग्रवाल ने इन जिलों में संक्रमण रोकने के उपायों को कड़ाई से लागू करने की जरूरत बताई। वैसे यह संक्रमण दर पिछले एक हफ्ते का औसत है। इनमें लगातार कमी आ रही है। लव अग्रवाल ने दिल्ली का पिछले हफ्ते की औसत संक्रमण दर 25.7 फीसद बताया। जबकि सोमवार को दिल्ली की पॉजिटिविटी रेट 19 फीसद पर आ गई थी।

युवा दूसरी लहर में ज्यादा हो रहे संक्रमित

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आइसीएमआर) के महानिदेशक डॉ. बलराम भार्गव ने मंगलवार को कहा कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर में युवा ज्यादा संक्रमित हो रहे हैं। इसकी वजह यह हो सकती है कि काम के लिए उन्हें घरों से बाहर निकलना पड़ता है। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि पहली और दूसरी लहर में संक्रमित होने वालों में उम्र के हिसाब से ज्यादा अंतर नहीं है। डॉ. भार्गव ने कहा कि 40 साल से ज्यादा उम्र के लोगों के संक्रमण की चपेट में आने का खतरा ज्यादा है। उन्होंने यह भी बताया कि कोरोना वायरस से कुछ ऐसे वैरिएंट हैं जो युवाओं को ज्यादा प्रभावित कर रहे हैं।

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप