नई दिल्ली, पीटीआइ। भारत में कोरोना वायरस (COVID-19) के कारण लागू लॉकडाउन के चौथे चरण (Lockdown 4) में 85,974 मामले सामने आए। यानी देश में अब तक सामने आए कुल मामलों में से  लगभग आधे मामले इस दौरान सामने आए। बता दें कि ये आंकड़े 18 मई को शुरू हुए लॉकडाउन के बाद से रविवार 31 मई सुबह 8 बजे तक के हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों से पता चलता है कि 31 मई की आधी रात को समाप्त होने वाले लॉकडाउन 4.0 के दौरान कुल 47.20 फीसद मामले सामने आए।

समाचार एजेंसी पीटीआइ के अनुसार 25 मार्च के लागू हुए पहले लॉकडाउन (Lockdown1.0) में 21 दिन की अवधि के दौरान 10,877 मामले सामने आए। 15 अप्रैल तीन मई तक  लागू लॉकडाउन के दूसरे चरण (Lockdown2.0) में 19  दिन की अवधि के दौरान 31,094 मामले सामने आए।  चार मई से 17 मई तक लागू तीसरे चरण के लॉकडाउन (Lockdown3.0) के दौरान  53,636 मामले सामने आए। 24 मार्च तक देश में 512 मामले सामने आए थे। 

सबसे ज्यादा मामले वाले देशों की सूची में 9वें नंबर पर भारत

भारत दुनिया में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले वाले देशों की सूची में 9वें नंबर पर है। देश में पहला मामला केरल में 30 जनवरी के सामने आया था।भारत लौटी वुहान विश्वविद्यालय की एक छात्रा संक्रमित पाई गई थी।  

पिछले 24 घंटे में 8,380 मामले सामने आए

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार भारत में आज 31 मई 2020 को एक दिन में कोरोना का अब तक का सबसे ज्यादा मामला सामने आया। पिछले 24 घंटे में 8,380 मामले सामने आए। इसके साथ देश में संक्रमितों की संख्या 1,82,143 हो गई। वहीं मरने वालों की संख्या 5,164 हो गई। देश में एक्टिव केस 89,995 है और 86,983 लोग ठीक हो गए हैं। अब तक लगभग 47.75 फीसद मरीज ठीक हो चुके हैं। 

 8 जून से 'अनलॉक -1' की शुरुआत 

गृह मंत्रालय ने शनिवार को कहा कि रविवार को लॉकडाउन के चौथे चरण के समापन के साथ देश में 8 जून से 'अनलॉक -1' की शुरुआत की जाएगी, जिसके तहत देश भर में लॉकडाउन को काफी हद तक छूट दी जाएगी, जिसमें शॉपिंग मॉल, रेस्तरां और धार्मिक स्थान खोलना शामिल है। देश के सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्रों में 30 जून तक सख्त प्रतिबंध लागू रहेंगे।

 

Posted By: Tanisk

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस