मुंबई। पुलिस हिरासत की अवधि खत्म होने से ठीक एक दिन पहले रविवार को शीना बोरा हत्याकांड की मुख्य अभियुक्त इंद्राणी मुखर्जी को उसके घर ले जाकर घटना की कडि़यों को जोड़ने का प्रयास किया गया। शाम को लगभग चार बजे इंद्राणी को खार पुलिस स्टेशन से उसके वर्ली स्थित आवास पर ले जाया गया। उस समय उसके पति पीटर मुखर्जी भी घर पर मौजूद थे। उसको पुलिस कर्मियों के साथ आवासीय परिसर स्थित गैराज की ओर भी जाते देखा गया।

पुलिस के अनुसार, शीना की हत्या के बाद रात को उसका शव इसी गैराज में रखा गया था। कुछ देर बाद इंद्राणी वापस पुलिस स्टेशन लौट आई। जिस वक्त उसके घर में मामले की तफ्तीश की जा रही थी, उस वक्त संजीव खन्ना और श्याम राय से पुलिस स्टेशन पर ही कड़ी पूछताछ की गई। इससे पहले जांच दल ने पुलिस स्टेशन पर इंद्राणी से एक घंटे तक पूछताछ कर हत्याकांड के रहस्यों को सुलझाने की कोशिश की।

पुलिस के अनुसार, इंद्राणी जांच में सहयोग नहीं कर रही है और उससे कुछ भी उगलवाना मुश्किल साबित हो रहा है। पुलिस को अब रायगढ़ के जंगल में मिले कंकाल के अवशेषों की फोरेंसिक रिपोर्ट का इंतजार है।

इससे पहले गुरुवार को पुलिस ने दावा किया था कि इंद्राणी ने हत्या को अंजाम देने की बात कबूल कर ली है और किसी अन्य की भूमिका को लेकर उससे पूछताछ की जा रही है। एक स्थानीय अदालत ने शनिवार को तीनों आरोपियों की हिरासत की अवधि सोमवार तक के लिए बढ़ा दी थी।

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Amit Mishra