दंतेवाड़ा, राज्य ब्यूरो। छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले के अरनपुर थाना क्षेत्र के गोंडेरास जंगल में शनिवार सुबह करीब साढ़े पांच बजे डिस्टि्रक्ट रिजर्व गार्ड (डीआरजी) के जवानों और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में दो इनामी महिला नक्सली मारी गईं। इनमें पांच लाख रुपये की इनामी हिड़मे कोहरामी और एक लाख की इनामी पोज्जे शामिल हैं। इलाके में नक्सलियों की मौजूदगी को देखते हुए जवानों ने गश्त तेज कर दी है।

एक पर पांच लाख व दूसरे पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित था

मिली जानकारी के अनुसार फूलपाड़ में शुक्रवार की रात 30 से 40 वर्दीधारी नक्सली उत्पात मचा रहे थे। उन्होंने पुलिस की मुखबिरी का आरोप लगाते हुए फूलपाड़ के मीडियमपारा निवासी छह ग्रामीणों संजय, सिंगड़ी, सोना, माई, कोर्रि भीमा और भीमा के नाम से जान से मारने का पर्चा जारी किया था। इससे ग्रामीण दहशत में थे। सूचना के आधार पर डीआरजी के जवानों की टीम शुक्रवार को मौके के लिए रवाना की गई थी।

जवानों के पहुंचने की सूचना पर नक्सली भाग निकले। जवानों ने उनका पीछा किया और शनिवार सुबह गोंडरास के जंगल में आमना-सामना हो गया। यहां चली मुठभेड़ में जवानों ने दो महिला नक्सलियों को मार गिराया। इनमें हिड़मे मलांगीर एरिया कमेटी की सदस्य जबकि पोज्जे नीलावाया क्षेत्र की चेतना नाट्य मंडली (सीएनएम) की सदस्य थी।

सुरक्षाबलों को मिली सफलता

दंतेवाड़ा के एसपी डा. अभिषेक पल्लव ने कहा कि नहाड़ी अब तक नक्सलियों का गढ़ रहा है पर अब यहां जवानों का कैंप खुल गया है। बस्तर बटालियन की भर्ती भी हो रही है। इन सबसे नक्सली बौखलाए हुए हैं। नक्सलियों के उत्पात की सूचना पर ही जवानों को भेजा गया था, जिसमें बड़ी सफलता मिली है।

Edited By: Arun Kumar Singh