मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नारायणपुर, जेएनएन। Narayanpur Naxal Ecnounter, नारायणपुर जिले के अबूझमाड़ ओरछा थाना क्षेत्र और आकाबेड़ा पुलिस कैंप के नक्सलियों के इलाके कुतुल में सुरक्षाबलों ने आपरेशन मानसून चलाया। शनिवार की सुबह करीब पांच बजे नक्सलियों और एसएटीएफ जवानों के बीच यह मुठभेड़ हुई। धरबेड़ा के जंगल में करीब आधे घंटे तक दोनों ओर से चली गोलीबारी में पांच नक्सली मारे गए। इस मुठभेड़ में दो एसटीएफ जवान घायल हो गए हैं, जिनमें से एक की हालत गंभीर बताई जा रही है। आईजी विवेकानंद सिन्हा ने भारी मात्रा में हथियारों की बरामदगी की बात कही है। 

पुलिस महानिदेशक डी एम अवस्थी के मुताबि  'यह एनकाउंटर नारायणपुर जिले के ओरछा थाने से लगभग 20 किलोमीटर दूर स्थित धुरबेड़ा गांव के पास जंगल में  हुआ। यह तब हुआ जब एक डीआरजी टीम जवाबी कार्रवाई में बाहर निकली हुई थी।'उन्होंने कहा कि रायपुर से लगभग 350 किलोमीटर दूर ओरछा के आंतरिक जंगल में माओवादी प्रशिक्षण शिविर के बारे में एक विशेष खुफिया इनपुट पर कार्रवाई करते हुए, डीआरजी की एक टीम ने इस जगह छापेमारी की थी।उन्होंने कहा कि गोलीबारी करीब डेढ़ घंटे तक चली, जिसके बाद वह जंगल में गायब हो गया।

अधिकारी ने बताया कि तलाशी अभियान के दौरान घटनास्थल से पांच नक्सलियों के शव बरामद किए गए। इसके अलावा हथियारों का एक बड़ा जखीरा भी जब्त किया गया है। डीआरजी के दो जवानों को बंदूक की नोक से चोटें आई है।

Posted By: Shashank Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप