रायपुर, राज्य ब्यूरो)। छत्तीसगढ़ कोविड 19 वैक्सीनेशन में पूरे देश में सातवें स्थान पर है। राज्य में कुल जनसंख्या के 15.17 प्रतिशत लोगों को मतलब 44 लाख 49 हजार से अधिक को वैक्सीन का पहला डोज दिया जा चुका है। राष्ट्रीय औसत 7.79 प्रतिशत है। केंद्र शासित प्रदेश लक्षद्वीप, अंडमान निकोबार, लदाख के साथ राज्यों में सिक्किम, त्रिपुरा, हिमाचल प्रदेश केवल छत्तीसगढ़ से आगे हैं।

45 वर्ष से अधिक उम्र के 66 फीसद लोगों को पहली डोज लग चुकी

18 अप्रैल तक की स्थिति में यहां 45 वर्ष से अधिक उम्र के लगभग 66 प्रतिशत लोगों को पहली डोज लग चुकी है। इसके अलावा 88 प्रतिशत हेल्थकेयर वर्कर, 91 प्रतिशत फ्रंट लाइन वर्कर को भी वैक्सीन की पहली खुराक दी गई है।

छत्तीसगढ़ में तीन दिन में 35 हजार ने दी कोरोना को मात

छत्तीसगढ़ में कोरोना वायरस के संक्रमण के बढ़ने की खबर के बीच तीन दिन में 35 हजार से अधिक लोगों ने कोरोना को मात दी है। यह खबर बड़ी राहत देने वाली है। ठीक होने वाले 35 हजार में से करीब 34 हजार ने घर में रहते हुए कोरोना को हराया है।

एक दिन में 14 हजार 75 मरीजों ने दी कोरोना को मात 

स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार 18 अप्रैल को एक ही दिन में 14 हजार 075 मरीजों ने कोरोना को मात दी है। पिछले तीन दिनों में प्रदेश भर में 34 हजार 961 लोग कोविड-19 से उबर चुके हैं। प्रदेश के विभिन्न अस्पतालों, कोविड केयर सेंटरों और होम आइसोलेशन में इलाज करा रहे 11 हजार 807 मरीज 16 अप्रैल को और 9079 मरीज 17 अप्रैल को डिस्चार्ज किए गए हैं।

34 हजार 447 कोरोना संक्रमितों ने होम आइसोलेशन में रहकर इलाज करवाया

पिछले तीन दिनों में स्वस्थ हुए लगभग 35 हजार कोरोना संक्रमितों में से 34 हजार 447 ने होम आइसोलेशन में रहकर अपना इलाज करवाया है। वहीं पूर्ण रूप से स्वस्थ होने के बाद 514 मरीजों को विभिन्न अस्पतालों और कोविड केयर सेंटरों से डिस्चार्ज किया गया है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण की शुरूआत के बाद से अब तक पाजिटिव पाए गए पांच लाख 44 हजार 840 मरीजों में से चार लाख दस हजार 913 लोग ठीक हो चुके हैं। इनमें से एक लाख 12 हजार 595 संक्रमितों का कोविड अस्पतालों और कोविड केयर सेंटरों में इलाज किया गया है। वहीं दो लाख 98 हजार 318 मरीजों ने होम आइसोलेशन में उपचार कराकर कोरोना को मात दी है।