रायपुर,पीटीआइ। देशभर में कंटेनमेंट ज़ोन को छोड़कर ज्यादा इलाकों में लॉकडाउन के चौथे चरण मे छूट दी गई है। अब छत्तीसगढ़ में राज्य सरकार ने 44 कटेंनमेंट ज़ोन की पहचान की है। इससे पहले राज्य में चार ब्लाक को वर्गीकृत किया था, जहां पर रेड़ ज़ोन था। कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बीच राज्य में तीन जिलों के चार विकासखडों को रेड जोन घोषित किया गया है। इसके साथ ही 80 विकासखंडों को ऑरेंज जोन में शामिल किया गया है। राज्य के सभी विकासखंडों को रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में विभाजित किया गया है। इस संबंध ने विभाग ने अधिसूचना जारी की है।

जारी की गई अधिसूचना को बताते हुए अधिकारियों ने बताया कि केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी किए दिश-निर्देश को ध्यान में रखते हुए राज्य के सभी विकासखंडो और शहरी क्षेत्रों में कोरोना वायरस के एक्टिव मामलों की संख्या,काफी संख्या में नमूनों की जांच के आधार पर यह वर्गीकरण किया गया है। इसी आधार पर रेड,ग्रीन और ओरेंज जोन का निर्धारण हुआ है।

बता दें कि राज्य में कुल 146 विकासखंड हैं। ऐसे में 25 जिलों के 80 विकासखंड को ऑरेंज जोन में रखा गया जबकि बाकी विकासखंड को ग्रीन जोन में रखा गया है। स्वास्थ्य विभाग ने 22 मई की स्थिति के आधार पर यह विभाजन किया है। अधिकारियों ने बताया कि प्रत्येक सोमवार को इसमें स्थिति के आधार पर बदलाव किया जाएगा। अधिकारियों ने बताया कि कुछ विकासखंडों में कोरोना के पुष्टि नहीं होने पर उसे आरेंज जोन में रखा गया है।

बता दें कि राज्य में पिछले दिनों के बढ़ती रफ्तार के तहत यह निर्धारण किया गया है। इस वक्त पूरे देश में लॉकडाउन का चौथा चरण चल रहा है। समूचे देश में कोरोना का कहर बना हुआ है। इस वायरस ने अभी सवा लाख से ज्यादा लोगों को संक्रमित कर दिया है। वहीं मरनेवालों का आंकड़ा 3 हजार के पार चला रहा है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस