रायपुर, एएनआइ। छत्तीसगढ़ में एक बार फिर आईइडी ब्लास्ट हो गया है। सुकमा जिले के गोगुंदा के पास यह ब्लास्ट हुआ है। इस  विस्फोट में 2 जिला रिजर्व गार्ड (DRG) के जवान घायल हो गए। सुकमा जिले के एएसपी शलभ सिन्हा ने बताया कि दोनों जवानों की हालत अभी नाजुक है हम उन्हें वहां से  एयरलिफ्ट कर रायपुर ला रहे है। ताकि उनका ठीक से उपचार हो सके। 

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि छत्तीसगढ़ में नक्सलियों ने सुकमा जिले पे पास किए गए ब्लास्ट में जिला रिजर्व गार्ड (डीआरजी) के जवान मंगलवार को घायल हो गए। बता दें कि यह घटना यहां से करीब 500 किलोमीटर दूर स्थित गोगुंदा गांव के पास हुई। उन्होंने बताया कि यह हादसा उस वक्त हुआ जब सुरक्षाकर्मियों की एक संयुक्त टीम नक्सली विरोधी अभियान पर निकली थी। उन्होंने कहा कि डीआरजी और स्पेशल टास्क फोर्स के कर्मियों सहित गश्त करने वाली टीम गोगुन्दा के पास पहाड़ी पर एक जंगल की घेरा बंदी कर रहे थे। तभी अचानक से विस्फोट हो गया।

 

 

जानकारी के लिए बता दें कि लगातार नक्सली वारदातें बढ़ती जा रही हैं। जब से लोकसभा नाव की शुरुआत हुई तब से नक्सिलयों ने कई हमले किए। सुकमा जिले से सटे सीमावर्ती राज्य ओडिशा के मलकानगिरी जिले में नक्सलियों ने लैंडमाइन ब्लास्ट कर दिया जिसमें ओड़िसा एसओजी के दो जवान घायल गंभीर रूप से घायल हो गए थए। तुलसीडोंगरी इलाके में दक्षिण बस्तर के माओवादियों द्वारा बैठक लेने की सूचना लगातार पुलिस को मिल रही थी जिसको देखते हुए ओड़िसा के मलकानगिरी से स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप की टीम दो दिन पहले आपरेशन के लिए निकली थी।

इससे पहले भी छत्तीसगढ़-ओडिशा सीमा पर नक्सलियों ने 13 मई सोमवार को आईईडी ब्लास्ट किया था। इस विस्फोट में एक बीएसएफ जवान घायल हो गया था। इससे पहले छत्तीसगढ़-महाराष्ट्र सीमा पर नक्सलियों ने सड़क निर्माण में लगी गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया था। क्षेत्र में चल रहे सड़क निर्माण कार्य को बंद करने के लिए नक्सलियों ने पूर्व बस्तर डिवीजन कमेटी के नाम से दो दिनों पूर्व पर्चा फेंका था। मटवाल के मुंडीपदर में सड़क निर्माण कार्य जारी था। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ayushi Tyagi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप