नई दिल्ली, प्रेट्र: हाल ही में बिहार, गुजरात, हरियाणा, झारखंड, केरल और महाराष्ट्र के कुछ जिलों में खसरे के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए केंद्र सरकार सतर्क हो गई है। उसने इस पर काबू पाने के लिए सभी राज्यों और केंद्र-शासित प्रदेशों से संवेदनशील क्षेत्रों में रह रहे नौ माह से पांच साल तक के बच्चों को खसरा और रूबेला के टीकों की अतिरिक्त खुराक देने पर विचार करने को कहा है।स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव पी. अशोक बाबू ने कहा कि इस संबंध में नीति आयोग के विशेषज्ञों के साथ बुधवार को एक बैठक की गई। मिली जानकारी के आधार पर राज्यों और केंद्र-शासित प्रदेशों को संवेदनशील क्षेत्रों में नौ माह से पांच साल तक के सभी बच्चों को टीके की अतिरिक्त खुराक देने पर विचार करने की सलाह दी गई है।सरकार ने कहा है कि यह खुराक नौ से 12 महीने के बीच दी जाने वाली पहली खुराक और 16 से 24 माह के बीच दी जाने वाली दूसरी खुराक के अतिरिक्त होगी। राज्य और केंद्र-शासित प्रदेशों के प्रशासनिक तंत्र को संवेदनशील क्षेत्रों की पहचान करनी होगी।

यह भी पढ़े: 26 नवंबर को 9 सैटेलाइट की लांचिंग, विशेषज्ञों के अनुसार खेती-खनन से लेकर पर्यावरण तक को बचाने में मिलेगी मदद

मुंबई में एक की और मौत, 156 संदिग्ध मामलों का पता चला

मुंबई में खसरे के 13 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या बढ़ गई है। वहीं, इससे संक्रमित एक और व्यक्ति की मौत हो गई। इस तरह से मरने वालों की संख्या बढ़कर 12 हो गई है। बीएमसी ने कहा है कि बुधवार को शहर के सरकारी अस्पतालों से 22 मरीजों को छुट्टी दे दी गई। बीएमसी के सर्वेक्षणों के दौरान खसरे के 156 संदिग्ध मामलों का पता चला। एक आधिकारिक बयान के अनुसार, इस साल अब तक खसरे के 3,534 संदिग्ध मामले सामने आ चुके हैं।

यह भी पढ़े: Fact Check: सऊदी फुटबॉलर यासिर अल-शहरानी की नहीं हुई फीफा वर्ल्ड कप में घायल होने के बाद मौत, अफवाह हो रही वायरल

Edited By: Amit Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट