Move to Jagran APP

CDS चौहान ने साइबरस्पेस के अभियानों के लिए जारी किया संयुक्त सिद्धांत, तीनों सेनाओं के लिए क्यों महत्वपूर्ण?

सीडीएस चौहान ने साइबरस्पेस के अभियानों के लिए संयुक्त सिद्धांत जारी किया। जनरल चौहान ने चीफ आफ स्टाफ कमेटी की बैठक के दौरान संयुक्त सिद्धांत जारी किया। रक्षा मंत्रालय ने कहा कि यह सिद्धांत कमांडरों को आज के जटिल सैन्य अभियानों के माहौल में साइबर जगत का संचालन करने में मार्गदर्शन देगा। मंत्रालय ने कहा कि संयुक्त सिद्धांत प्रक्रिया को गति देने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है।

By Agency Edited By: Nidhi Avinash Tue, 18 Jun 2024 11:45 PM (IST)
CDS चौहान ने साइबरस्पेस के अभियानों के लिए जारी किया संयुक्त सिद्धांत (Image: PIB)

नई दिल्ली, पीटीआई। चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल अनिल चौहान ने मंगलवार को साइबरस्पेस के अभियानों के संचालन में कमांडरों का मार्गदर्शन करने वाला संयुक्त सिद्धांत (डाक्टरीन) जारी किया। यह सिद्धांत एक ऐसा महत्वपूर्ण दस्तावेज है जो मौजूदा जटिल सैन्य अभियानों के इतर साइबर जगत के संचालन में कमांडरों, कर्मचारियों और पेशेवरों का मार्गदर्शन करेगा।

तीनों सेनाओं के एकीकरण को बढ़ावा देने वाला एक महत्वपूर्ण कदम

यह तीनों सेनाओं के एकीकरण को बढ़ावा देने वाला एक महत्वपूर्ण कदम होगा। यह सिद्धांत साइबर जगत के सैन्य पहलुओं को समझने पर जोर देता है। इसके अलावा, यह योजना बनाने और वांछित लक्ष्यों को हासिल करने में सेना को वैचारिक मार्गदर्शन प्रदान करता है। यह दस्तावेज ऐसे समय में जारी किया गया है, जब सरकार देश की सैन्य ताकत को मजबूत करने के लिए थिएटर कमान शुरू करने पर विचार कर रही है।

एक महत्वपूर्ण कदम

जनरल चौहान ने चीफ आफ स्टाफ कमेटी (सीओएससी) की बैठक के दौरान संयुक्त सिद्धांत जारी किया। रक्षा मंत्रालय ने कहा कि यह सिद्धांत कमांडरों को आज के जटिल सैन्य अभियानों के माहौल में साइबर जगत का संचालन करने में मार्गदर्शन देगा। मंत्रालय ने कहा कि साइबर जगत के संचालन के लिए संयुक्त सिद्धांत प्रक्रिया को गति देने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है।

यह भी पढ़ें:  Monsoon Update: मानसून की चाल बेमिसाल, भीषण गर्मी से जल्द दिलाएगी राहत, झमाझम बारिश इन राज्यों को करेगी सरोबार

यह भी पढे़ं: Renuka Swamy Case: भाजपा ने रेणुकास्वामी के परिवार को दी 2 लाख रुपये की मदद, कर्नाटक के गृह मंत्री बोले- CBI जांच की जरूरत नहीं