नई दिल्ली, प्रेट्र। फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत की सीबीआइ जांच अभी भी जारी है। हालांकि एम्स के मेडिकल बोर्ड ने पिछले साल अपनी रिपोर्ट में इस मामले को आत्महत्या का मामला बता दिया था। इस संबंध केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआइ) के अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि इस मामले में सभी कोणों से गौर किया जा रहा है। उल्लेखनीय है सुशांत का शव बीते साल 14 जून को मुंबई के बांद्रा के अपार्टमेंट में लटका मिला था।

सुशांत की मौत के बाद मुंबई पुलिस पर ठीक से जांच न करने का आरोप लगा सुशांत के पिता विकास सिंह ने इस मामले में पटना में एफआइआर दज कराई थी। इस पर बिहार पुलिस ने जांच के लिए अपनी टीम मुंबई भेजी थी। काफी तमाशा होने और मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंचने पर मामले की जांच सीबीआइ ने अपने हाथ में ली। इस बीच एम्स के फोरेंसिक विभाग के प्रमुख सुधीर गुप्ता के नेतृत्व में एम्स पैनल ने सीबीआइ को फोरेंसिक रिपोर्ट सौंपी जिसमें सुशांत को जहर देने या गला घोंटे जाने से इन्कार किया गया है।

एम्स की रिपोर्ट सामने आने के बाद सुशांत के पिता विकास सिंह और उनके वकील केके सिंह ने कहा कि एम्स की रिपोर्ट परेशान करने वाली है। हालांकि एम्स की फोरेंसिक रिपोर्ट मिलने के बावजूद सीबीआइ ने एक बयान जारी कर जांच जारी होने की बात कही थी। लेकिन इतना समय बीत जाने के बाद भी सीबीआइ अभी तक अपनी जांच पूरी नहीं कर पाई है।