बुलंदशहर, एएनआइ। Bulandshahr Violence Case, बुलंदशहर हिंसा में मारे गए इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह का सरकारी फोन बरामद होने के बाद अब मुख्य आरोपित प्रशांत नट की पत्नी का बयान सामने आया है। गिरफ्तार आरोपी प्रशांत नट की पत्नी ने आरोप लगाया है कि इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह का मोबाइल फोन पुलिस टीम ने खुद ही उनके घर पर रखा था। बता दें कि रविवार को पुलिस ने प्रशांत नट के घर से इंस्पेक्टर सुबोध का मोबाइल बरामद किया गया था।

पुलिस ने खुद घर में रखा फोन

नट की पत्नी का कहना है, 'पुलिस हमारे घर यह कहते हुए दाखिल हुई कि उनके पास सर्च वारंट है। उन्होंने हमसे पूछा कि प्रशांत का कौन सा कमरा है। दो पुलिस वाले अंदर गए और ड्रेसिंग टेबल पर फोन रख दिया। जब हमने कहा कि यह हमारा नहीं है, तो उन्होंने हमें चुप रहने के लिए कहा। पुलिस अपने साथ फोन लेकर आई थी।'

27 दिसंबर को आरोपित प्रशांत नट हुआ गिरफ्तार 

गौरतलब है कि बुलंदशहर हिंसा मामले का मुख्य आरोपी प्रशांत नट को पुलिस ने 27 दिसंबर को गिरफ्तार किया था। जिसके बाद पुलिस ने रविवार (27 जनवरी) को यह दावा किया कि इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह का फोन नट के घर से बरामद हुआ है। उनका कहना है कि नट के घर की तलाशी के दौरान उन्हें इंस्पेक्टर सुबोध का फोन मिला। हालांकि नट की पत्नी पुलिस के दावे को झूठा बता रही है।

बुलंदशहर हिंसा : एसआइटी ने बरामद किया इंस्पेक्टर सुबोध का सरकारी मोबाइल

रविवार पुलिस ने बरामद किया इंस्पेक्टर सुबोध का फोन

गौवंश के अवशेष मिलने के बाद बुलंदशहर के स्याना भड़की हिंसा में जान गंवाने वाले इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की पिस्टल और उनके दो मोबाइल अभी भी गायब हैं। बुलंदशहर में तीन दिसंबर को भड़की हिंसा और इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की हत्या मामले में जांच कर रही एसआइटी की टीम ने रविवार तड़के इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह का सरकारी मोबाइल फोन बरामद किया था। एसआइटी ने सुबोध की हत्या के मुख्य आरोपी प्रशांत नट के घर पर छापा मारकर छह मोबाइल फोन बरामद किए थे जिसमें एक मोबाइल मृतक सुबोध कुमार सिंह का बताया जा रहा है।

Posted By: Nancy Bajpai

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप