पणजी। नौसेना के लिए तैयार की गई सुपर सोनिक क्रूज मिसाइल ब्रह्माोस का रविवार को गोवा से सफल परीक्षण किया गया। इस मिसाइल को आईएनएस तेग से छोड़ा गया और इसने तय समय में अपने लक्ष्य पर अचूक वार किया। यह मिसाइल 290 किमी के दायरे में अचूक निशाना लगाने में सक्षम है। यह मिसाइल 300 किग्रा वारहेड ले जाने में पूरी तरह से सक्षम है।

ब्रह्माोस मिसाइल को नौसेना के लिए रूस की मदद से तैयार की गई है। आईएनएस तेग से रविवार सुबह इसका सफल परीक्षण किया गया। आईएनएस तेग को रूस के यांतर शिपयार्ड में तैयार किया गया है। इसके अलावा आईएनएस तारख और आईएनएस त्रिखंड को भी इस मिसाइल को दागने के लिए तैयार किया जा रहा है। ब्रह्माोस मिसाइल को नौसेना के साथ वायुसेना के लिए भी तैयार किया जा रहा है। इसका ट्रायल वर्जन भी तैयार किया जा चुका है। 2005 में ब्रह्माोस को भारतीय नौसेना में शामिल किया गया था। इसको आईएनएस राजपूत पर लगाया गया है।

इसके अलावा इस मिसाइल को भारतीय थल सेना में भी शामिल किया जा चुका है। पनडुब्बी से इसको लॉन्च करने के लिए कार्य अभी प्रगति पर है। इस मिसाइल को भारतीय थल सेना की तीसरी रेजीमेंट में अरुणाचल प्रदेश में तैनात किया गया है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस