नई दिल्ली। रुपये में जारी गिरावट और देश की बिगड़ती अर्थव्यवस्था पर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के शुक्रवार को लोकसभा में दिए गए बयान पर विपक्ष भड़क गया। राज्यसभा में विपक्ष के नेता अरुण जेटली ने पीएम पर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार बचाने के लिए यहां सांसद खरीदे जाते हैं। उधर, प्रधानमंत्री ने भी पलटवार करते हुए कहा कि उन्हें विपक्ष चोर बुलाता है। विपक्ष और प्रधानमंत्री के बीच चली तकरार के बाद भाजपा ने लोकसभा से वॉकआउट कर दिया।

पढ़ें : जरूरी था रुपये का गिरना

दोनों के बीच ये आरोप प्रत्यारोप का दौर यहीं खत्म नहीं हुआ। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि इसी देश में विपक्ष का ऐसा बर्ताव देखने को मिलता है, तो वहीं जेटली ने कहा कि इसी देश में सांसद खरीदे जाते हैं।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री ने देश की बिगड़ती आर्थिक स्थिति पर चिंता जताते हुए कहा कि इसमें जल्द सुधार होगा। उन्होंने भरोसा दिलाया है कि 1991 जैसे मंदी वाले हालात दोबारा नहीं लौटकर आएंगे। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि हमें सोना खरीदने से ज्यादा एक्सपोर्ट पर ध्यान देना चाहिए।

इससे पहले लोकसभा की कार्यवाही शुरू होते ही तेलंगाना मुद्दा और तमिल मछुआरों के मसले को लेकर स्थगित हो गई थी।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस