नई दिल्‍ली [जेएनएन]। मिशन 'संपर्क फॉर समर्थन' के तहत भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह सोमवार रात करीब आठ बजकर पचास मिनट पर भारत के पूर्व मुख्य न्यायाधीश आरसी लोहाटी से मिलने उनके घर नोएडा पहुंचे। शाह ने पूर्व मुख्य न्यायाधीश से मुलाकत उन्हें भाजपा द्वारा किए जा रहे विकास कार्यों से अवगत कराया।

योग गुरु बाबा रामदेव से मिले शाह 

इससे पहले मिशन 'संपर्क फॉर समर्थन' के तहत अमित शाह ने योग गुरु बाबा रामदेव से दिल्‍ली में मुलाकात की थी। इस मौके पर शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की बागडोर उस समय संभाली, जब देश आर्थिक संकट से जूझ रहा था। किसान आत्‍महत्‍या कर रहे थे। देश में भ्रष्‍टाचार और महंगाई चरम पर थी। मोदी जी ने देश को इन तमाम संकटों से उबारा है। उनके कुशल नेतृत्‍व में देश में भ्रष्‍टाचार पर अंकुश लगा और सरकार ने गरीबों व किसानों के लिए पर्याप्‍त काम किए।

पीएम मोदी ने देश को रास्ता दिखाया

इस दौरान बाबा रामदेव ने मोदी सरकार के कामकाज की जमकर तारीफ की। रामदेव ने कहा कि प्रधानमंत्री ने चार साल में भारत के सम्मान को पूरी दुनिया में बढ़ाया है। आज बड़े से बड़े देश का राष्ट्राध्यक्ष मोदी जी का सम्मान करता है। उन्होंने कहा कि संकट के समय पीएम मोदी ने देश को रास्ता दिखाया।

लोकसभा चुनाव की तैयारी

इस मिशन के तहत शाह देश की प्रख्यात हस्तियों को पार्टी और सरकार के कामकाज से अवगत कराने का जिम्‍मा है। अकेले शाह ही इस अभियान के तहत 50 बड़ी हस्तियों से मिलेंगे। इस अभियान को अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव की तैयारियों के रूप में देखा जा रहा है। इसके तहत एक तबके को सरकार के प्रति अच्‍छी धारणा पैदा करना है।

पूर्व सेनाध्यक्ष से मिले थे अमित शाह 

बता दें कि शाह ने मंगलवार को इस अभियान की शुरुअात करते हुए सबसे पहले पूर्व सेनाध्यक्ष जनरल दलबीर सिंह सुहाग से मुलाकात की। इसके बाद वे संविधान विशेषज्ञ और भूतपूर्व लोकसभा सेक्रेटरी जनरल सुभाष कश्यप से भी मिले थे। इस क्रम में शाह ने पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी कपिल देव से मुलाकात की और उनके साथ मोदी सरकार की उपलब्धियों को साझा किया। अभियान का मकसद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार की जनोपयोगी कार्यों के प्रति देश में जागरूकता पैदा करना और जनता का समर्थन हासिल करना है।

एक लाख लोगों से संपर्क

26 मई को मोदी सरकार के चार साल पूरे होने पर भाजपा ने मेगा प्रचार अभियान 'समर्थन के लिए संपर्क' शुरू किया। इसके तहत पार्टी के चार हजार से अधिक नेता एक लाख लोगों से संपर्क करेंगे। वह इस अभियान के तहत देश की प्रख्यात हस्तियों को पार्टी और सरकार के कामकाज से अवगत कराएंगे।

जनता के बीच जाएंगे नेता 

इतना ही नहीं इस अभियान में हर पार्टी कार्यकर्ता को कम-से-कम 10 लोगों से संपर्क करना हो। कार्यकर्ता सरकार की उपलब्धियों और कार्यों को जनता के बीच लेकर जाएंगे। इस पहल में कार्यकर्ताओं की सहायता के लिए ‘नमो ऐप' पर 'संपर्क फॉर समर्थन' नाम से एक विशेष आइकन भी उपलब्ध कराया गया है। इनमें ब्यूरोक्रेट्स, पूर्व सेना अधिकारी, विद्वान और अन्य क्षेत्रों की जानी मानी हस्तियों को शामिल किया गया है। नेता खुद लोगों के घर जाएंगे और पार्टी तथा सरकार के कार्यक्रमों और योजनाओं के बारे में उन्‍हें अवगत कराएंगे। 

यह भी पढ़ें: 'हवा' में ही प्रदूषण से जंग लड़ रही है 'आप' सरकार, हवा-हवाई साबित हुए दावे और वादे

Posted By: Ramesh Mishra