नई दिल्ली, जेएनएन। आध्यात्मिक गुरू भय्यूजी महाराज की मौत हो गई है। उन्होंने इंदौर स्थित अपने आवास में खुद को गोली मारकर खुदकुशी कर ली। भय्यूजी के परिवारवाले उन्हें अस्पताल लेकर गए, लेकिन वे पहले ही दम तोड़ चुके थे। खुदकुशी से पहले भय्यूजी ने एक सुसाइड नोट भी लिखा था। इस सुसाइड नोट में उन्होंने अपनी मौत का जिम्मेदार किसी को नहीं बताया था। हालांकि, उन्होंने इतना जरूर लिखा कि वो जिंदगी के तनाव से काफी परेशान थे। बहरहाल, भय्यूजी की मौत पर उनके समर्थकों को यकीन नहीं हो रहा है।

भय्यूजी महाराज सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते थे। भय्यू रोजाना आध्यात्म से जुड़ी जानकारी को लेकर ट्वीट करते थे। मंगलवार को भी उनकी मौत से मात्र 20 मिनट पहले उनके ट्विटर अकाउंट से एक के बाद एक लगातार तीन ट्वीट किए गए। बाद में खबर आई कि उनकी मौत हो चुकी है।

इन ट्वीट्स के जरिए भय्यूजी ने मासिक शिवरात्रि के बारे में जानकारी दी थी। करीब 1 बजकर 57 मिनट पर किए गए इन ट्वीट्स में क्या है, आइए आपको बताते हैं। 

पहला ट्वीट; भय्यूजी ने अपने ट्वीट के जरिए मासिक शिवरात्रि के बारे में जानकारी दी थी। जो उन्होंने 1 बजकर 24 मिनट पर किया था। उन्होंने बताया था 'आज मासिक शिवरात्रि है। यह प्रत्येक माह की कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को मनाई जाती है। हिन्दू धर्म में इस शिवरात्रि का भी बहुत महत्त्व है। 'शिवरात्रि' भगवान शिव और शक्ति के अभिसरण का विशेष पर्व है।'

दूसरा ट्वीट; अपने दूसरे ट्वीट में भी उन्होंने मासिक शिवरात्रि के बारे में जानकारी दी थी। उन्होंने ट्वीट कर लिखा 'धार्मिक मान्यता है कि 'मासिक शिवरात्रि' के दिन व्रत आदि करने से भगवान शिव की विशेष कृपा द्वारा कोई भी मुश्किल और असम्भव कार्य पूरे किये जा सकते हैं। 'अमांत पंचांग' के अनुसार माघ मास की 'मासिक शिवरात्रि' को 'महाशिवरात्रि' कहते हैं।

तीसरा ट्वीट;  उन्होंने ट्वीट किया 'मासिक शिवरात्रि' को 'महाशिवरात्रि' कहते हैं। दोनों पंचांगों में यह चन्द्र मास की नामाकरण प्रथा है, जो इसे अलग-अलग करती है। मै सभी भक्तगणों को इस पवन दिवस की बधाई एवं शुभकामनाये देता हूं।

कौन कर रहा था ट्वीट ?
इधर, लगातार ट्वीट हो रहे थे और उधर, भय्यूजी अस्पताल में थे। ऐसे में संभव है कि ट्विटर अकाउंट भय्यूजी खुद नहीं बल्कि कोई टीम या ऑफिस के लोग कर रहे हों, जिन्हें शायद इस बात की भी जानकारी नहीं थी कि भय्यूजी ने खुदकुशी कर ली है। जांच के बाद और अच्छे से स्पष्ट हो जाएगा कि आखिर ट्वीट कौन कर रहा था। 

वेरिफाइड नहीं हुआ था ट्विटर
भय्यूजी के जिस अकाउंट से ट्वीट हो रहे थे, वह अभी वेरिफाइड नहीं हुआ है। हालांकि, भय्यूजी का फेसबुक पेज वेरिफाइड है। फेसबुक पेज और भय्यूजी की वेबसाइट पर इसी ट्विटर अकाउंट को लिंक किया गया है। 

Posted By: Manish Negi