बेंगलुरु, प्रेट्र। अपने सुहावने मौसम के लिए विख्यात बेंगलुरु पिछले डेढ़ सदी में गुरुवार को सबसे गरम रहा। शहर में इस दिन रिकॉर्ड 33.4 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। भारतीय मौसम विभाग पिछले करीब 150 साल से तापमान दर्ज कर रहा है।

भारतीय मौसम विभाग की निदेशक गीता अग्निहोत्री ने शनिवार को कहा, 'शहर में 30 जनवरी को सबसे ज्यादा तापमान 33.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इसने पिछले सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं।' कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में इससे पहले 21 जनवरी, 2000 को 32.8 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया था।

उन्होंने बताया कि गत गुरुवार को बेंगलुरु के एचएएल एयरपोर्ट पर 32.5 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। जबकि केम्पेगौड़ा इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर 33.6 डिग्री सेल्सियस तापमान था। अग्निहोत्री ने कहा कि मौसम विभाग ने गत नवंबर में ही यह अनुमान जारी किया था कि पूर्व के वर्षो की तुलना में इस साल पूरे देश में गर्मी का मौसम ज्यादा कष्टकारी होगा।

उत्तर भारत में कड़ाके ठंड और बर्फबारी

वहीं, दूसरी ओर उत्तर भारत के पहाड़ों पर लगातार बर्फबारी का दौर जारी है। इससे उत्तर भारत में ठंड पहले से ज्यादा बढ़ गई है। हिमाचल में मौसम ने फिर करवट बदली और बारिश के साथ बर्फबारी का दौर शुरू हो गया। शिमला सहित मनाली, कुफरी और डलहौजी में बर्फ की चादर बिछ गई। ऊपरी हिमाचल में भारी हिमपात होने से लोगों की मुश्किलें बढ़ गई हैं। हिमपात की वजह से 272 सड़कें यातायात के लिए बद हो गई हैं। ऊपरी शिमला का संपर्क कट गया है।

उत्तराखंड में के बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के साथ टिहरी, चमोली, रुद्रप्रयाग और पिथौरागढ़ जिलों में पहाड़ों पर रुक-रुक कर हिमपात का क्रम बना हुआ। मौसम विभाग ने इस दौरान 2000 मीटर की ऊंचाई तक के स्थानों पर भारी हिमपात और बारिश की चेतावनी दी है।

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस