बेगमगंज(रायसेन), नईदुनिया। ग्राम जरूआ में एक शादी के दौरान अच्छा खासा बवाल हो गया। फेरे से पहले वधु पक्ष ने दूल्हे को टीके में 10 हजार रपए दिए, तो दूल्हा सहित वर पक्ष 50 हजार रपए की मांग पर अड़ गया। जिस पर मारपीट के दौरान दुल्हन ने दूल्हे को थप्पड़ मारकर शादी तोड़ दी। फिर दहेज एक्ट में दूल्हा, उसके पिता और दो रिश्तेदारों को हवालात पहुंचा दिया।

पुलिस के मुताबिक ग्राम जरआ निवासी रूपसिंह चढ़ार की बेटी सीता की शादी ग्राम बढ़गवां निवासी रामकु मार से तय हुई थी। सोमवार को उसकी बारात आई थी। रात करीब 3 बजे पाणिग्रहण संस्कार के दौरान सीता के पिता रूपसिंह ने दूल्हा राम को टीके की रस्म में 10 हजार रपए दिए, तो दूल्हा सहित उसके परिजन 50 हजार रपए की मांग करने लगे। रूपसिंह ने कहा कि उनकी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है। वे पहले ही फलदान में बाइक और 10 हजार रपए दे चुके हैं। अब अलग से 50 हजार कहां से दें, लेकिन दूल्हा और उसके परिजन नहीं माने। फिर बहस मारपीट में बदल गई।

वधु पक्ष का आरोप है कि शराब के नशे में बारातियों ने हमला किया। जिसमें दुल्हन सीता, पिता रूपसिंह, मौसी सहित अन्य लोगों को चोटें आई। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार दुल्हन सीता ने दूल्हे राम को फटकार लगाते हुए थप्पड़ जड़ दिया और शादी करने से मना कर दिया। पूरी बारात लौट गई। मंगलवार की सुबह सीताबाई अपने पिता रूपसिंह के साथ बेमगगंज थाने पहुंची। वहां रिपोर्ट लिखाई। सीता की रिपोर्ट पर आरोपितों के खिलाफ दहेज एक्ट के तहत केस दर्ज किया है। बड़गांव जाकर आरोपित रामकुमार चढ़ार, उसके पिता भगवानदास चढ़ार, दो रिश्तेदार रामबाबू चढ़ार और गोपीसिंह चढ़ार ग्राम हुरा थाना राहतगढ़ को गिरफ्तार कर लिया।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Nitin Arora

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप