हरिद्वार। योग गुरु बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण अब आयुर्वेद व योग चिकित्सा के अनुसार मिट्टी के बर्तनों का निर्माण कराने जा रहे हैं। उनका दावा है कि इनके इस्तेमाल से कई बीमारियों से निजात मिल जाएगी।

शुरुआती दौर में वे मिट्टी का तवा और कड़ाही बाजार में ला रहे हैं। इसके बाद अन्य बर्तन भी बाजार में लाए जाएंगे। पतंजलि योगपीठ के महामंत्री आचार्य बालकृष्ण ने बताया कि हमारे देश की मिट्टी आयुर्वेदिक तत्वों से भरपूर है। इन पर बना भोजन न

सिर्फ स्वाद में अलग होता है, बल्कि पौष्टिक भी होता है। मिट्टी के बर्तन का इस्तेमाल हमारे यहां पुरातन काल से चला आ रहा था, लोग इस कारण स्वस्थ रहते थे। वर्तमान में बदले परिवेश और पश्चिम के अंधानुकरण के कारण व्यवस्था छिन्न-भिन्न हो गई। अब एक बार फिर से पतंजलि योगपीठ हमारे ऋषि-मुनियों की इस परंपरा को आरंभ करने जा रहा है।

Posted By: Sachin Mishra