नई दिल्ली, जागरण ब्यूरो। अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने शनिवार को मीडिया को लेकर एक और एडवाइजरी जारी की है। जिसमें अयोध्या विवाद या अयोध्या फैसले को लेकर किसी भी तरह के आधे-अधूरे सच और भड़काऊ कार्यक्रमों को न दिखाने की हिदायत दी गई है।

आचार संहिता का कड़ाई से पालन                      

टीवी चैनलों और निजी केबल आपरेटरों से इसका खास ध्यान रखने को कहा गया है। साथ ही प्रोग्राम आचार संहिता का कड़ाई से पालन करने को कहा गया है। मंत्रालय इससे पहले भी मीडिया के लिए एक ऐसी ही एडवाइजरी जारी कर चुका है।

सतर्कता से काम करने के निर्देश                

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने यह एडवाइजरी अयोध्या फैसले के बाद शांति व्यवस्था को बनाए रखने के लिए उठाए जाने वाले कदमों के तहत जारी की है। इस दौरान समाचार पत्रों के साथ टीवी चैनलों, निजी केबल ऑपरेटर और दूसरे माध्यमों को भी पूरी सतर्कता से काम करने के निर्देश दिए है।

विवादित चीजों से करें परहेज                     

एडवाइजरी में साफ कहा गया है, कि फैसले के बाद किसी भी तरह की चर्चा, बहस और रिपोर्टिग के दौरान प्रोग्राम आचार संहिता का सख्ती से पालन किया जाए। मंत्रालय ने इसके साथ ही मीडिया से किसी भी धर्म या समुदाय को लेकर किसी भी तरह की विवादित चीजों से परहेज करने को कहा है, जिसमें तनाव की स्थिति पैदा हो।

Posted By: Manish Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप