अलीगढ़, जेएनएन। Ayodhya Ram Temple Issue, राम मंदिर को लेकर एएमयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष फैजुल हसन ने विवादित बयान दिया है। फैजुल ने कहा है कि अगर मस्जिद बनाने के लिए फैसला आया तो 'वो' पूरे मुल्क में हर जगह खून की नदियां बहाने से नहीं चूकेंगे। अल्लाह से दुआ करता हूं कि इस मुल्क की अस्मत और आबरू की हिफाजत होती रहे। हालांकि उन्होंने 'वो' शब्द का प्रयोग किसके लिए किया, यह बात उन्होंने अपने बयान में स्पष्ट नहीं की है।

छात्र नेता ने आगे कहा है कि बाबरी मस्जिद (Babri Mosque Demolition) सिर्फ एक आस्था ही नहीं, बल्कि मुसलमानों के अस्तित्व का मामला है। कल को अगर कोर्ट का फैसला मस्जिद के खिलाफ आया, तो मुसलमान अपने मुल्क की किसी भी चीज को नुकसान नहीं पहुंचाएगा। अगर मुसलमान बाबरी मस्जिद से अपनी दावेदारी हटा लें तो फिर इसकी जिम्मेदारी कौन लेगा कि बनारस की ज्ञानवापी मस्जिद, जामा मस्जिद की अस्मिता पर कोई दावेदारी नहीं करेगा।

उन्होंने आगे कहा कि साक्षी महाराज जैसे सांसद संवैधानिक पद पर रहते हुए भी नारा देते हैं कि काशी, मथुरा, अयोध्या छोड़ो, जामा मस्जिद तोड़ो। यह देशहित में ठीक नहीं है।

Posted By: Nancy Bajpai

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप