नई दिल्ली, एजेंसी। मिजोरम में असम राइफल्स और जोखावथार पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। असम राइफल्स और जोखावथर पुलिस की एक संयुक्त टीम ने मेथाम्फेटामाइन गोलियों की बड़ी खेप जब्त की है। बाजार में इसकी कीमत लगभग 168 करोड़ रुपये बताई जा रही है। अधिकारियों ने रविवार को इसकी जानकारी दी है। इस सिलसिले में एक महिला को हिरासत में भी लिया गया है।

अधिकारियों ने बताया कि प्रतिबंधित दवाइयों का वजन करीब 56 किलोग्राम था। दरअसल, असम राइफल्स को इसकी गुप्त जानकारी मिली थी। अधिकारियों ने बताया कि 23 सितंबर को चम्फाई जिले के मेलबुक गांव में एक वाहन से मेथाम्फेटामाइन की 5 लाख से ज्यादा गोलियां बरामद की।

संदिग्ध वाहन को रोककर की जांच

एक अधिकारिक बयान में कहा गया, 'पुलिस टीम ने एक वाहन को संदिग्ध दिखने पर रोका। वाहन की जांच की तो उसमें से मेथाम्फेटामाइन की 5 लाख से ज्यादा गोलियां मिली। एक महिला इन गोलियों को लेकर जा रही थी। गोलियों की कीमत करीब 168 करोड़ रुपये है।' मामले की जांच के लिए जब्त सामान और महिला को पुलिस थाने को सौंप दिया गया।

असम राइफल्स का अभियान जारी

बता दें कि असम राइफल्स पिछले एक साल से अधिक समय से अवैध ड्रग्स, हथियारों और विस्फोटकों को लेकर अभियान चला रहा है। म्यांमार में अशांत आंतरिक स्थिति के कारण लोगों के अवैध सीमा पार में वृद्धि हुई है। बयान में कहा गया कि अगर म्यांमार से मिजोरम आने वाले प्रवासियों की संख्या बढ़ती है, इन अवैध गतिविधियों के और तेज होने की संभावना है।

इससे पहले इसी शनिवार को असम पुलिस ने करीमगंज जिले में 504 ग्राम हेरोइन जब्त कर एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया था।

ये भी पढ़ें:

NIA की रिपोर्ट में खुलासा, 'युवाओं को अल कायदा, ISIS और लश्कर में शामिल कराना चाहते थे PFI सदस्य'

MHA Action: PFI पर छापेमारी के बाद एक्शन में गृह मंत्रालय, संगठन को बैन करने की तैयारी

Edited By: Manish Negi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट