नई दिल्ली, जेएनएन।Assam NRC Final List, असम में बहुप्रतीक्षित नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजंस (एनआरसी) की अंतिम सूची आए हुए आज करीब दो हफ्ते बीत चुके हैं। असम के लिए एनआरसी की अंतिम सूची में 19 लाख से अधिक लोगों को जगह नहीं मिली थी। आज(14 सितंबर) से एनआरसी की अंतिम सूची में आप अपना नाम ऑनलाइन भी देख सकते हैं। आज एनआरसी की अंतिम सूची ऑनलाइन जारी कर दी गई है।

असम में तैनात अर्धसैनिक बलों को वापस बुलाया
एनआरसी की अंतिम सूची ऑनलाइन जारी किए जाने पर केंद्र सरकार ने बड़ा फैसले हुए असम में तैनात 10,000 अर्धसैनिकों को वापस बुला लिया है। उन्होंने कहा कि असम में कभी भी हिंसा नहीं हुई। गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि अंतिम पर अंतिम सूची ऑनलाइन जारी होने से पहले कानून और व्यवस्था की स्थिति के रख-रखाव के लिए असम में अर्धसैनिक बलों की 218 कंपनियों को तैनात करने के लिए 19 अगस्त को एक निर्णय लिया गया था।चूंकि असम में शांति कायम है, इसलिए राज्य के हालात पर शुक्रवार को गृह मंत्रालय द्वारा समीक्षा की गई।

अधिकारी ने कहा कि समीक्षा के बाद अर्धसैनिक बलों की 100 कंपनियों को तत्काल प्रभाव से वापस बुलाने का फैसला किया गया है। अर्धसैनिक बलों की 100 कंपनियों में 50 बीएसएफ, 10 सीआरपीएफ, 16 आईटीबीपी और 24 एसएसबी की हैं।

बता दें, इस सूची में उन लोगों के नाम हैं जो फाइनल लिस्ट में शामिल किए गए थे। इसकी जानकारी एनआरसी स्टेट को-ऑर्डिनेटर ने पहले ही दे दी थी। इसके लिए आधिकारिक नोटिफिकेशन भी जारी की गई थी। स्टेट को-ऑर्डिनेटर ने यह भी कहा कि लोगों की तरफ से उनके एनआरसी लिस्ट से बाहर किए जाने की कॉपियां भी मांगी गई हैं, हालांकि कई जगहों पर उनके निरस्तीकरण को लेकर सुनवाई भी शुरू हो चुकी है।10 सितंबर से ही एनआरसी से बाहर हुए लोगों को नोटिस भेजने का काम शुरू भी कर दिया गया है।

यहां क्लिक करके देख सकते हैं अपना नाम 
एनआरसी लिस्ट प्रकाशित कर दी गई है। इसे आप nrcassam.nic.in पर क्लिक करके देख सकते हैं। इसके लिए वेबसाइट  में अपना ऐप्लिकेशन रिफरेंस नंबर और कैप्चा कोड डालना होगा फ‍िर आप सूची में अपने नाम की स्थिति देख पाएंगे। फिलहाल nrcassam.nic.in पर इस समय ट्रैफिक बहुत ज्यादा जिसकी वजह से साइट को खुलने में थोड़ा वक्‍त ले रही है। इसके अलावा assam.mygov.in और assam.gov.in पर अपने नाम की स्थिति देखी जा सकती है।

गौरतलब है कि असम एनआरसी की फाइनल लिस्ट 31 अगस्त 2019 को जारी की गई थी। इसके लिए 6 साल तक की लंबी प्रक्रिया से गुजरना पड़ा। एनआरसी के लिए आवेदन करने वाले लोगों में से 31 करोड़ 1 लाख 21 हजार 4 लोगों को इसकी अंतिम लिस्ट में शामिल किया गया, जबकि 19 लाख 6 हजार 657 लोगों को इस सूची से बाहर रखा गया था।

असम में एनआरसी की प्रक्रिया 2013 में सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद शुरू की गई थी।बाहर रखे गए लोगों को 120 दिन के भीतर असम में स्‍थापित 300 फॉरनर्स ट्रिब्‍यूनल में आवेदन करने का मौका दिया गया है। NRC सूची का उद्देश्य असम में रह रहे उन नागरिकों को अलग करना है, जिन्होंने बांग्लादेश से अवैध रूप से राज्य में प्रवेश किया था।

इसे भी पढ़ें: NRC लिस्ट से बाहर हुए लोगों के लिए बनाया जा रहा सबसे बड़ा डिटेंशन कैंप, देखिए तस्वीरें

इसे भी पढ़ें: NRC को लेकर कई विपक्षी पार्टियों के दावे हुए फेल, 19 लाख में से 3 लाख ने नहीं किया दावा

Posted By: Shashank Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप