श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में कमजोर सरकार की वजह से अलगाववादियों का हौसला बुंलद होता जा रहा है। आतंकी मसर्रत की कारगुजारी को अलगाववादियों का खूब समर्थन मिल रहा है। महिला आतंकी व अलगाववादी आशिक हुसैन फक्तू की पत्नी आसिया अंद्राबी ने मसर्रत आलम की पाकिस्तान समर्थक नारेबाजी का खुला समर्थन किया है।

अंद्रावी ने सरकार को चुनौती देते हुए कहा है कि वह हमें गिरफ्तार कर सकती है लेकिन हमारी भावना को नहीं।पाकिस्तानी झंडा फहराने में कुछ भी नया और गलत नहीं है। हम पाकिस्तानी झंडा आगे भी फहराते रहेंगे।

गौरतलब है कि अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी और उनके समर्थकों ने दिल्ली से लौटने पर बुधवार को श्रीनगर में रैली का आयोजन किया था। इस रैली में मसर्रत आलम भी शामिल हुआ। इस दौरान मसर्रत आलम ने पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाए। गिलानी की इस रैली में पाकिस्तानी झंडे भी लहराए गए।

काफी दबाव के बाद मुफ्ती सरकार मसर्रत आलम के खिलाफ कार्रवाई पर विचार कर रही है। जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद ने केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह से बात करने के बाद कहा कि कानून के मुताबिक मसर्रत के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

पढ़ेंः केंद्र की घुड़की के बाद झुके मुफ्ती, बोले-मसर्रत पर करेंगे कार्रवाई

पढ़ेंः गिलानी के स्वागत में मसर्रत ने लहराए पाक के झंडे, मामला दर्ज

Posted By: Sudhir Jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप