भुवनेश्वर, एएनआइ। केंद्रीय रेल मंत्री ( Ashwini Vaishnaw) ने शनिवार को ऐलान किया कि आगामी सितंबर माह से हर माह चार वंदे भारत ट्रेनों की शुरुआत की जाएगी। नेशनल रेलवे अवार्ड समरोह के दौरान रेलमंत्री ने कहा, 'हम रेल को नई ऊंचाईयों पर ले जाने को लेकर प्रतिबद्ध हैं। सितंबर से हर माह 4-5 वंदे भारत ट्रेनों को शुरू किया जाएगा और बुलेट ट्रेनों का काम भी प्रगति पर है।'

अगस्त तक दो और वंदे भारत ट्रेनों की होगी शुरुआत 

इससे पहले शुक्रवार को भारतीय रेलवे ने बताया था कि भारत में दो वंदे भारत ट्रेनें पहले से ही चल रही हैं। इनमें से एक नई दिल्ली से वाराणसी और दूसरी नई दिल्ली से वैष्णोदेवी कटरा को जाती हैं। अब इसे नई दिल्ली-चंडीगढ़ या नई दिल्ली-अमृतसर के रूट पर भी दौड़ाया जा सकता है।अगस्त तक दो और वंदे भारत सेमी हाई स्पीड ट्रेनों के शुरुआत की उम्मीद है। इनका निर्माण कार्य अंतिम चरण में है। चेन्नई के इंटीग्रल कोच फैक्ट्री (ICF) में इसका निर्माण हो रहा है।

2023 तक पटरी पर दौड़ेंगी 75 वंदे भारत ट्रेनें 

रेल मंत्री ने कहा, 'भारत के सभी क्षेत्रों को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की परिकल्पना वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेनों के माध्यम से जोड़ा जाएगा। यह हम सभी के लिए एक सपना सच होने के जैसा है।'  उन्होंने आइसीएफ का दौरा किया और वंदे भारत एक्सप्रेस कोचों के निर्माण कार्य का निरीक्षण किया।  उन्होंने कहा कि भारतीय रेलवे अगस्त 2023 तक 75 वंदे भारत रैक शुरू करने के लिए प्रतिबद्ध है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 2022-23 के केंद्रीय बजट में कहा था कि तीन साल में 400 नई ऊर्जा कुशल वंदे भारत ट्रेनें शुरू की जाएंगी। रेल मंत्री  ने यह भी कहा कि भारतीय रेलवे की बेहतरी के लिए हमारा ध्यान पूरी तरह से नई तकनीकों पर है। उन्होंने कहा कि सभी रेलवे स्टेशनों को फिर से विकसित किया जा रहा है। 

Edited By: Monika Minal