श्रीनगर (राज्य ब्यूरो)। सेना ने उत्तरी कश्मीर के नौगाम (कुपवाड़ा) सेक्टर में एलओसी पर घुसपैठ के प्रयास को नाकाम बनाते हुए एक पाकिस्तानी आतंकी को मार गिराया। अन्य आतंकियों के खिलाफ सैन्य अभियान जारी है। नौगाम सेक्टर में बीते 11 दिनों में गुलाम कश्मीर की तरफ से पाकिस्तानी सेना के सहयोग से आतंकियों की घुसपैठ का यह तीसरा प्रयास है। इससे पहले 26 जुलाई को सेना ने इसी सेक्टर में लश्कर के चार आतंकियों को मार गिराने के अलावा एक आतंकी बहादुर अली को जिंदा पकड़ा था। उसके बाद 30 जुलाई को फिर सरहद पार से घुसपैठ हुई। इस दौरान दो जवान शहीद हो गए थे और दो आतंकी मारे गए थे।

रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि हमारे जवानों ने स्वचालित हथियारों से लैस तीन से चार आतंकियों को एलओसी पार कर भारतीय सीमा में दाखिल होते देखा। उन्होंने आतंकियों को ललकारते हुए आत्मसमर्पण करने को कहा। घुसपैठियों ने इस पर वापस भागना चाहा और उन्होंने जवानों को पीछा करने से रोकने के लिए फायरिंग की। जवानों ने भी जवाबी फायर किया। इसके बाद वहां शुरू हुई मुठभेड़ में एक आतंकी आतंकी मारा गया। उसके पास से एक असाल्ट राइफल, तीन मैगजीन, दो हथगोले, एक पिट्ठू बैग, एक रेडियो सेट व अन्य सामान मिला है।

प्रवक्ता ने बताया कि मारे गए आतंकी की तत्काल पहचान नहीं हो पाई है, लेकिन वह लश्कर का पाकिस्तानी आतंकी हो सकता है। उसके अन्य साथियों के वापस भाग जाने की आशंका है, लेकिन उनके वहीं कहीं आसपास छिपे होने की संभावना को भी नकारा नहीं जा सकता। इसलिए पूरे इलाके में जवानों ने सघन तलाशी अभियान जारी रखा हुआ है।

हिरण शिकार मामले में सलमान के खिलाफ सप्रीम कोर्ट जाएगी वसुंधरा सरकार

रक्षा मंत्री पर्रीकर ने आमिर पर दिए अपने बयान को ठहराया सही

गायों की मौत के मामले मेंं राजस्थान सरकार ने किए दो अधिकारी सस्पेंड

Posted By: Kamal Verma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस