कोयंबटूर, एएनआई: कोयंबटूर में बीजेपी कार्यालय पर बॉटल बम फेंके जाने की घटना को अभी 24 घंटे भी नहीं बीते, कि और इसी तरह की घटना सामने आई है। शहर के दक्षिणी इलाके कुनियमुत्तूर में एक भाजपा कार्यकर्ता के घर के बाहर खड़ी बॉटल बम फेंका गया है। जिससे कार को बड़े स्तर पर नुकसान पहुंचा है। वहीं, गुरुवार को भाजपा कार्यालय पर बॉटल बन फेंके जाने के विरोध में पार्टी कार्यकर्ताओं ने इलाके में प्रदर्शन कर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

कार्यालय पर हुए हमले को बीजेपी कार्यकर्ताओं ने आतंकवादी हमला करार दिया है। उन्होंने आरोप लगाए कि पार्टी आफिस पर हमला ईडी द्वारा पीएफआइ के खिलाफ की गई कार्रवाई के विरोध में किया गया है। पार्टी ऑफिस पर फेंके गए बॉटल बम के बारे में बताया गया है कि वो पैट्रोल बन नहीं था, बॉटल में केरोसिन तेल भरा हुआ था। घटना के बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर स्थिति को नियंत्रित कर, जांच शुरू कर दी है।

यह घटना राष्ट्रीय जांच एजेंसी, प्रवर्तन निदेशालय और राज्य पुलिस बलों द्वारा संयुक्त रूप से तमिलनाडु सहित पूरे भारत में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के शीर्ष नेताओं और सदस्यों के घरों और कार्यालयों पर संयुक्त रूप से तलाशी लेने के कुछ घंटों बाद हुई। गुरुवार को भारत के 15 राज्यों में 93 जगहों पर तलाशी ली गई, जिन राज्यों में छापे मारे गए उनमें आंध्र प्रदेश (4), तेलंगाना (1), दिल्ली (19), केरल (11), कर्नाटक (8), तमिलनाडु (3), उत्तर प्रदेश (1), राजस्थान (2) शामिल हैं। , हैदराबाद (5), असम, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, गोवा, पश्चिम बंगाल, बिहार और मणिपुर।

सूत्रों के मुताबिक, राष्ट्रीय जांच एजेंसी, प्रवर्तन निदेशालय और राज्य पुलिस बलों द्वारा देश के कई स्थानों पर 15 राज्यों में किए गए संयुक्त अभियान में गुरुवार को कुल 106 पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के कैडरों को गिरफ्तार किया गया था।

Edited By: Amit Singh