नई दिल्ली, जेएनएन। गोवा में होने जा रहे 52वें भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह (आइआइएफएफ) में जहां आजादी के अमृत महोत्सव का रंग दिखेगा वहीं कोरोना की चुनौतियों के बावजूद समारोह में दुनिया की कई चर्चित फिल्में सिने प्रेमियों के लिए आकर्षण का केंद्र होंगी। लगातार दूसरे साल हाईब्रिड होने जा रहे फिल्म समारोह में पहली बार ओटीटी प्लेटफार्म को भी शामिल किया जा रहा है।

यह होगा खास आकर्षण

इस समारोह की सबसे खास बात यह होगी कि अंतरराष्ट्रीय सिनेमा की दो चर्चित हस्तियों मार्टिन स्कारसेजी और इस्तेवान साबो को प्रतिष्ठित 'सत्यजित रे लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड' से नवाजा जाएगा। स्कारसेजी हालीवुड सिनेमा की एक प्रमुख हस्ती हैं और उन्हें फिल्म इतिहास के सर्वाधिक प्रभावशाली फिल्मकारों में गिना जाता है। हंगरी के प्रतिष्ठित फिल्म निर्देशक साबो दशकों से अपनी तमाम बेहतरीन फिल्मों के लिए चर्चित रहे हैं।

ओटीटी के सभी प्‍लेटफार्म होंगे शामिल

आइआइएफएफ के आयोजन को लेकर पत्रकारों से बातचीत में सूचना प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि पहली बार ओटीटी के सभी पांच प्लेटफार्म नेटफ्लिक्स, अमेजान प्राइम, जी-5, वूट और सोनी लिव फिल्म महोत्सव में शिरकत करेंगे। ओटीटी विशेष मास्टरक्लास, कंटेंट लांच और प्रीव्यू, चुने हुये फिल्म-पैकेज के प्रदर्शनों और वर्चुअल कार्यक्रमों को अपने प्लेटफार्म पर जगह देंगे। फिल्म जगत को ओटीटी दिग्गजों के साथ बातचीत का यहां मंच मिलेगा।

ऐसे होगी समारोह की शुरुआत

अनुराग ठाकुर ने बताया कि 'द किंग आफ आल द व‌र्ल्ड' से समारोह की शुरुआत होगी और यह फिल्म का अंतरराष्ट्रीय प्रीमियर भी होगा। 'द पावर आफ द डाग' मिड फेस्ट फिल्म होगी। मुख्य पैनोरामा खंड के लिए करीब 30 फिल्मों को चुना गया है जो प्रमुख अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सवों में दिखाई जा चुकी हैं।

समानांतर ब्रिक्स फिल्म महोत्सव भी

पहली बार समानांतर ब्रिक्स फिल्म महोत्सव का भी आयोजन किया जा रहा है जिसमें ब्राजील, रूस, दक्षिण अफ्रीका, चीन और भारत की फिल्में दिखाई जाएंगी। इस साल समारोह के फोकस देश भी ब्रिक्स देश ही हैं।

ईरान की रखशान ज्यूरी की प्रमुख

अंतर्राष्ट्रीय सिनेमा ज्यूरी की प्रमुख ईरान की चर्चित फिल्मकार रखशान बनी एतेमाद को बनाया गया है। ब्रिटिश निर्माता स्टीफन वूली, कोलंबिया के फिल्मकार सिरो ग्वेरा, श्रीलंका के विमुक्ति जयसुंदरा और भारत से फिल्मकार नीला माधब पांडा इस ज्यूरी के सदस्य हैं।

पूर्वालोकन खंड में रजनीकांत की फिल्में

समारोह के पूर्वालोकन खंड में हंगरी के प्रसिद्ध फिल्मकार शबेला टा औ रुस के थियेटर निर्देशक आंद्रेई कोनकैल्वोस्की की फिल्में दिखाई जाएंगी। इस खंड में भारत की तरफ से चर्चित अभिनेता दादा साहेब फाल्के पुरस्कार विजेता रजनीकांत की फिल्में प्रदर्शित की जाएंगी।

भारत के 75 युवा प्रतिभाओं को मिलेगा मंच

सूचना प्रसारण मंत्री ने कहा कि यह समारोह भारत के 75 युवा उदीयमान प्रतिभाओं को मंच उपलब्ध कराएगा, ताकि वे मुख्यधारा के फिल्मकारों तथा फिल्म उद्योग से जुड़ सकें। 35 वर्ष से कम आयु की 75 रचनात्मक प्रतिभाओं का इसके लिए चयन कर निमंत्रण दिया जाएगा और वे सभी मास्टर क्लास में हिस्सा लेंगे।