दीपेश पांडे, मुंबई। खराब तबियत के चलते महानायक अमिताभ बच्चन मुंबई स्थित नानावटी हॉस्पिटल में पिछले चार दिनों से भर्ती हैं। खबर की पुष्टि अस्पताल से जुड़े सूत्रों ने की है। लिवर की समस्या से पीडि़त बिग बी को मंगलवार की शाम करीब चार बजे के आसपास अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनकी हालत स्थिर है। वह जल्द से जल्द अस्पताल से निकलकर दोबारा शूटिंग करने के लिए बेताब हैं। बुधवार को अमिताभ के साथ उनकी पत्नी जया बच्चन, बेटे अभिषेक बच्चन और बहू ऐश्वर्या राय बच्चन भी थीं।

अस्पताल से जुड़े सूत्रों के मुताबिक खराब तबियत की वजह से गाड़ी से बिग बी को चिकित्सा कक्ष तक व्हीलचेयर पर ले जाया गया था। जया बच्चन बिग बी के साथ अस्पताल में ठहरीं। जबकि अभिषेक और ऐश्वर्या घर चले गए थे। शुक्रवार को बिग बी को अस्पताल से छुट्टी मिलने वाली थी, लेकिन खबर लिखे जाने तक वह अस्पताल में ही हैं। बिग बी की देखभाल के लिए अभिषेक और जया बच्चन बारी-बारी से अस्पताल में रुक रहे हैं। शुक्रवार की शाम करीब चार बजे के आसपास अभिषेक अस्पताल में पहुंचे तो जया बच्चन घर को रवाना हुईं।

वर्ष 1982 में फिल्म 'कुली' की शूटिंग के दौरान लगी चोट के बाद से अमिताभ स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से जूझ रहे हैं। साल 2015 में एक समारोह के दौरान हेपेटाइटिस बी से ग्रसित होने का रहस्योद्घाटन करते हुए उन्होंने कहा था कि कुली की शूटिंग के दौरान घायल होने के बाद किसी रक्तदाता में हेपेटाइटिस-बी का वायरस था, जो उनके शरीर में चला गया था।

उस दुर्घटना के 18 साल बाद वर्ष 2000 तक उनका स्वास्थ्य सामान्य रहा। उसके बाद नियमित जांच के दौरान उन्हें लिवर संक्रमित होने की जानकारी मिली। उनका 75 प्रतिशत लिवर खराब हो चुका है। उन्होंने कहा था कि मैं इस वायरस को अपने साथ 18 वषरें तक ढोता रहा, जो मेरे लिवर को धीरे-धीरे खराब कर रहा था। मैंने अपना इलाज शुरू किया और आज भी इसकी दवाइयां खाता हूं। फिलहाल मेरा सिर्फ 25 प्रतिशत लिवर बचा है। अच्छी बात यह है कि सिर्फ 12 प्रतिशत लीवर के साथ कोई भी इंसान जिंदा रह सकता है।'

अमिताभ इन दिनों गेम शो 'कौन बनेगा करोड़पति-सीजन 11' की मेजबानी कर रहे हैं। उसके कुछ एपिसोड शूट बैंक में पहले से हैं। वहीं वह फिल्म झुंड, गुलाबो-सिताबो, चेहरा और ब्रह्मास्त्र कर रहे हैं।

Posted By: Sanjeev Tiwari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप