नईदुनिया, होशंगाबाद। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि असम में 40 लाख घुसपैठियों को चिन्हित करने का अभियान चलाया तो कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष व विरोधियों को तकलीफ होने लगी। घुसपैठियों के खाने-पीने की चिंता सताने लगी, हाय-तौबा होने लगी। उनको देश से बाहर निकालना हमारी जिम्मेदारी है। यदि केंद्र में हमारी अगली सरकार बनी तो घुसपैठियों को चुन-चुनकर बाहर किया जाएगा।

कार्यकर्ताओं को दिया जीत का मंत्र
शाह रविवार को मध्य प्रदेश के होशंगाबाद में नौ जिलों के पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कार्यकर्ताओं को विधानसभा चुनाव में जीत का मंत्र देते हुए कहा कि यहां के भाजपा कार्यकर्ता मुझसे बेहतर तरीके से चुनाव लड़ना जानते हैं। शाह ने करीब 35 मिनट के अपने संबोधन में 'बूथ जीता-तो चुनाव जीता' का मूल मंत्र पार्टी कार्यकर्ताओं को दिया।

राहुल पर निशाना
उन्होंने कहा कि शक्ति केंद्र के अध्यक्ष दस दिन में बूथ का दौरा करेंगे। 22 बिंदु तय किए गए हैं। इसकी सूची भी जारी कर दी गई है, इसे कार्यकर्ता गीता मानेंगे। कार्यक्रम में होशंगाबाद-भोपाल संभाग के छह हजार कार्यकर्ता उपस्थित थे।

राहुल गांधी के उस बयान कि कें द्र की भाजपा सरकार ने मप्र की जनता को क्या दिया, पर शाह ने कहा कि यूपीए सरकार ने 13वें वित्त आयोग से मप्र को एक लाख, 34 हजार, 190 करोड़ रुपये दिए थे। जब भाजपा की सरकार आई तो 14वें वित्त आयोग से मप्र को तीन लाख 44 हजार, 126 करोड़ रुपये दिए गए।

कार्यक्रम में भाजपा के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल, प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह, प्रदेश प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्घे, बैतूल सांसद ज्योति धुव्र्रे, होशंगाबाद सांसद राव उदय प्रताप सिंह, मप्र विस अध्यक्ष डॉ. सीतासरन शर्मा आदि मौजूद थे।

Posted By: Prateek Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप