राज्य ब्यूरो, जम्मू। आतंकियों ने दक्षिण कश्मीर के विभिन्न जिलों से तीन दिनों में अगवा किए गए एक सब इंस्पेक्टर समेत तीन पुलिसकर्मियों व पुलिस वालों के आठ परिजनों को छोड़ दिया है। इस संबंध में आतंकियों ने एक वीडियो जारी करते हुए चेतावनी दी है कि पूछताछ के लिए हिरासत में लिए गए उनके परिजनों को भी रिहा किया जाए।

पूरे कश्मीर में अलर्ट

हालांकि पुलिसकर्मियों व परिजनों को छोड़े जाने के संबंध में कोई पुलिस अधिकारी कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है। वहीं, पुलिस ने पूरे कश्मीर में अलर्ट करने के साथ दक्षिण कश्मीर में आतंकियों को पकड़ने के लिए व्यापक अभियान चला रखा है।

आतंकियों ने हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर रियाज नायकू के पिता असाद उल्ला को पूछताछ के लिए हिरासत में लेने के बाद शोपियां, कुलगाम, अनतंनाग और अवंतीपोरा जिलों में कई पुलिस वालों के घरों पर जाकर उनके परिजनों को अगवा कर लिया था।

आतंकियों ने 26 वर्षीय अदनान अहमद शाह को शोपियां जिले के तरंत क्षेत्र से अगवा किया। उसके चाचा डिप्टी सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस हैं। शोपियां जिले के वाथू गांव में आतंकियों ने एक पुलिस अधिकारी के बेटे यासिर भट को अगवा किया। उसके पिता इन दिनों हज पर गए हुए हैं।

हिजबुल के कमांडर का ऑडियो जारी 

अगवा किए गए अन्य युवाओं में कुलगाम जिले के अरवानी क्षेत्र के जुबेर अहमद, खैरपोरा क्षेत्र के फैजान अहमद, यारीपोरा कुलगाम के रहने वाले सुमेर अहमद राथर, काटापोरा कुलगाम के गौहर अहमद शामिल हैं। इससे पहले आतंकियों ने मिडूरा त्राल के रहने वाले नसीर अहमद और त्राल के ही आसिफ राथर को भी अगवा कर लिया था। शुक्रवार दोपहर को पुलिस द्वारा हिजबुल कमांडर रियाज नायकू के पिता को छोड़ने के बाद आतंकवादियों ने पहले डीएसपी के भतीजे अदनान अहमद शाह समेत तीन युवकों को छोड़ दिया। इसके बाद हिजबुल के कमांडर रियाज नायकू ने एक ऑडियो जारी कर अगवा किए सभी 11 युवाओं को छोड़ने का दावा किया। उसने पुलिस को भी चेतावनी दी कि तीन दिनों के भीतर पूछताछ के लिए हिरासत में लिए गए सभी आतंकियों के परिजनों को छोड़ दें।

दो एसपीओ ने नौकरी छोड़ी 

कश्मीर में पिछले तीन दिनों में कई पुलिसवालों व उनके परिजनों को आतंकियों द्वारा अगवा करने की घटना के बाद शुक्रवार को दो स्पेशल पुलिस ऑफिसर (एसपीओ) ने पुलिस की नौकरी छोड़ने की घोषणा कर दी। दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले के मिडूरा गांव के रहने वाले एसपीओ बिलाल अहमद कुमार ने एक स्थानीय मस्जिद में नौकरी छोड़ने का एलान किया। वहीं एक अन्य अन्य एसपीओ फैजल अहमद शाह निवासी काजीगुंड ने भी नौकरी छोड़ने का एलान किया।

आतंकियों ने जारी किया वीडियो 

आतंकियों ने अगवा तीन पुलिसकर्मियों समेत 11 लोगों को रिहा करने से पहले उनका एक वीडियो भी बनाया है। इसमें ये लोग जम्मू-कश्मीर पुलिस के महानिदेशक डॉ. एसपी वैद से आतंकियों के परिजनों को परेशान न करने की गुहार लगा रहे हैं।

सीआरपीएफ जवान का बेटा अगवा 

आतंकियों ने बेशक पुलिसकर्मियों के परिजनों को छोड़ दिया है, लेकिन उन्होंने गुरुवार देर शाम को दक्षिण कश्मीर के बिजबिहाड़ा में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के एक जवान के बेटे को अगवा कर लिया। अनंतनाग जिले के बिजबिहाड़ा में आतंकी सीआरपीएफ जवान फारूक अहमद भट के घर में घुस गए और उसके बेटे शरीफ अहमद भट को अगवा कर लिया। सुरक्षाबलों को जैसे ही इसकी जानकारी मिली, उन्होंने पूरे क्षेत्र को घेरकर युवक का पता लगाने के लिए तलाशी अभियान शुरू कर दिया।

Posted By: Arun Kumar Singh