मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

मुंबई (प्रेट्र)। एयर इंडिया के स्टाफ का मोबाइल विमान में छूट जाने से चालक द्वारा उड़ान को दो घंटे तक रोके रखने का एक मामला सामने आया है। यह घटना पिछले महीने की 18 तारीख की है। एयर इंडिया का विमान लंदन के हीथ्रो हवाई अड्डे से अहमदाबाद के लिए उड़ान भरने वाला था। लेकिन, कमांडर को पता चला कि मेंटेनेंस इंजीनियर का मोबाइल विमान में ही रह गया है।

कमांडर को फोन की जरूरत का एहसास हुआ और उसने इसे इंजीनियर को वापस लौटाने का फैसला किया। इसके बाद फ्लाइट अटेंडेंट ने दरवाजा खोला और फोन इसके मालिक को लौटा दिया। इस पूरी प्रक्रिया में उड़ान करीब दो घंटे लेट हो गई। सूत्रों ने बताया कि एयर इंडिया में यह इस तरह की पहली घटना है और मामले की जांच की जा रही है। एयर इंडिया के प्रवक्ता ने कहा कि यह घटना संबंधित लोगों के प्रति हमारी जवाबदेही को साबित करता है।

सह पायलट को धमकाने की जांच

एयर इंडिया ने अपने एक वरिष्ठ चालक द्वारा सह चालक को कुल्हाड़ी से मारने की धमकी देने की जांच का आदेश दिया है। इसके साथ ही एयर इंडिया ने अगले आदेश तक वरिष्ठ चालक को काम पर आने से भी रोक दिया है। हालांकि, प्रशिक्षक के रूप में पिछले सप्ताह उसकी सेवा बहाल कर दी गई है। सूत्रों के अनुसार, 18 जनवरी को कोलकाता से दीमापुर जा रहे एयर इंडिया के विमान में यह घटना घटी। उस समय वरिष्ठ चालक कॉकपिट में था। सह चालक द्वारा रूट जांच के दौरान उसने उसे कुल्हाड़ी से मारने की धमकी दी। इसके बाद 26 जनवरी को मुंबई से कोलकाता उड़ान के दौरान वरिष्ठ चालक ने अपने सह चालक को फिर से उसी तरीके से धमकाया।

Posted By: Srishti Verma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप