बेंगलूरू, एएनआइ। बीजापुर की कांग्रेस कार्यकर्ता रेशमा पेडनेकर (Reshma Pednekar) के हत्या के मामले में पुलिस ने एआईएमआईएम (All India Majlis-e-Ittehadul Muslimeen, AIMIM) नेता तौफीक शेख Toufeeq Shaikh को सोमवार को गिरफ्तार कर लिया। बीते 17 मई को रेशमा पेडनेकर की हत्‍या कर दी गई थी। रेशमा की लाश कर्नाटक के विजयपुरा में कोर्ती कोल्‍हर पुल के नीचे पाई गई थी। लाश मिलने के बाद से ही तौफीक शेख फरार चल रहे थे।

रेशमा के पति ने इस हत्‍याकांड में तौफीक शेख Toufeeq Shaikh के शामिल होने का आरोप लगाया था। पुलिस की छानबीन में पाया गया कि रेशमा पेडनेकर के फोन से अंतिम कॉल तौफीक शेख को ही की गई थी। हत्‍या से पहले पेडनेकर ने तौफीक शेख के खिलाफ छेड़छाड़ के आरोपों के तहत मामला दर्ज किया गया था। पुलिस को संदेह है कि छेड़खानी के मुकदमे ने ही तौफीक शेख को पेडनेकर की हत्‍या के लिए उकसाने का काम किया। 35 वर्षीय रेशमा पेडनेकर कर्नाटक कांग्रेस के महिला विंग की उपाध्‍यक्ष थीं। 

कोल्‍हापुर पुलिस थाने में दर्ज कराई गई शिकायत में रेशमा पेडनेकर के पति खाजा बंदनवाज पाडकनूर ने कहा है कि शेख ने ही रेशमा की हत्या की क्योंकि वह उसके 13 लाख रुपये नहीं लौटा रहा था। रेशमा अपने 13 लाख रुपये शेख से मांग रही थी जिसे दो साल पहले उसने कर्ज के तौर पर तौफीक शेख को दिए थे। एफआईआर में यह भी आरोप लगाया गया है कि तौफीक शेख ही रेशमा पेडनेकर को अपनी इनोवा गाड़ी से यह कहकर ले गया था कि वह इस मामले में उसके घर पर अकेले में बात करना चाहता है।  

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Krishna Bihari Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप