नई दिल्ली,जेएनएन। Agusta Westland मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार कारोबारी रतुल पुरी को बृहस्पतिवार को राऊज एवेन्यू कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने रतुल पुरी को छह दिन की ईडी की रिमांड पर भेज दिया है। इससे पहले  प्रवर्तन निदेशालय(ईडी) ने राऊज एवेन्यू कोर्ट से 14 दिन की रिमांड मांगी थी। उन्हें बुधवार को गिरफ्तार किया गया था। इससे पहले भी रतुल पुरी बैंक धोखाधड़ी से जुड़े एक अन्य मामले में न्यायिक हिरासत में थे।

कमलनाथ के भांजे हैं रतुल पुरी

इससे पहले प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआइपी हेलिकॉप्टर घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी को बुधवार को गिरफ्तार कर लिया। बता दें, रतुल पुरी कथित बैंक ऋण धोखाधड़ी से संबंधित एक अन्य धनशोधन मामले में पहले से ही न्यायिक हिरासत में हैं।

354 करोड़ रुपये के बैंक लोन घोटाले में आरोपित रतुल पुरी की रिमांड खत्म होने के बाद ईडी ने मंगलवार को राउज एवेन्यू की विशेष अदालत में उन्हें पेश किया। अदालत ने पुरी को 17 सितंबर तक न्यायिक हिरासत में जेल भेजने का आदेश दिया।

इससे पहले रतुल पुरी ने इस मामले में आत्मसमर्पण करने का अनुरोध करते हुए अदालत में एक आवेदन दिया था। यह मनी लॉन्ड्रिंग केस इटली की अगस्ता वेस्टलैंड से 12 वीवीआईपी हेलीकाप्टरों की खरीद में कथित अनियमितताओं के बाद दर्ज किया गया था। इससे पहले वीवीआइपी चॉपर घोटाले में दिल्ली हाइकोर्ट ने पुरी की अग्रिम जमानत याचिका को खारिज करते हुए ये कहा कि उनसे हिरासत में लेकर पूछताछ जरूरी है। 

इसे भी पढ़ें: 354 करोड़ के बैंक लोन घोटाले में कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी को भेजा गया जेल

इसे भी पढ़ें: Ratul Puri case: ईडी का खुलासा- '1,492.36 करोड़ का है रतुल पुरी का बैंक फ्रॉड'

Posted By: Shashank Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप