नई दिल्ली, एएनआइ। कालेधन और मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने वकील गौतम खेतान को गिरफ्तार कर लिया है। आयकर विभाग ने खेतान के खिलाफ कालेधन का मामला दर्ज किया है। खेतान पर आरोप है कि वे गैर-कानूनी तरीके से विदेशी खाते ऑपरेट कर रहे थे, उनके पास कालाधन है। बता दें कि गौतम खेतान अगस्ता वेस्टलैंड सौदे मामले में भी आरोपी हैं। दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने उसे दो दिन की रिमांड पर भेज दिया है।

पिछले हफ्ते भी आयकर विभाग ने खेतान के कई ठिकानों पर छापेमारी कर कार्रवाई की थी। यह छापेमारी दिल्ली-एनसीआर में गौतम खेतान की कई प्रॉपर्टियों पर हुई थी। ऐसा कहा जा रहा है कि अगस्ता वेस्टलैंड मामले में बिचौलिया क्रिश्चियन मिशेल से पूछताछ के दौरान ईडी को खेतान के कालेधन के बारे में पता चला। यूपीए के कार्यकाल में हुई अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआइपी चॉपर डील में भी खेतान का नाम सीबीआइ और इडी दोनों की चार्जशीट में शामिल है।

गौरतलब है कि अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले मामले में सितंबर 2014 में खेतान को गिरफ्तार किया गया था, इसके बाद जनवरी 2015 में वह जमानत पर बाहर आ गए थे। इसके बाद दिसंबर 2016 में उनकी फिर से गिरफ्तारी हुई, बाद में फिर से जमानत में छूट गए। अब कालाधन मामले में खेतान की गिरफ्तारी पर इडी ने कहा है कि आयकर कानून के तहत ब्लैक मनी एक्ट के तहत शिकायत दर्ज हुई, जिसके बाद गौतम खेतान को कालेधन के मामले में गिरफ्तार किया गया है। बताया जा रहा है कि चीली, हांगकांग, जाम्बिया, मॉरीशस, मलेशिया में लाखों डॉलर के लेन-देन पाया गया है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021