बालासोर [जागरण संवाददाता]। स्वदेशी तकनीक से विकसित सतह से सतह पर मार करने वाली परमाणु सक्षम अग्नि-1 मिसाइल का सफल परीक्षण शुक्रवार को किया गया। इसकी मारक क्षमता सात सौ किलोमीटर है।

मिसाइल का परीक्षण ओड़िशा के बालासोर से करीब 100 किलोमीटर दूर व्हीलर द्वीप स्थित इंटीग्रेटेड टेस्ट रेंज [आइटीआर] से किया गया। आइटीआर के निदेशक एमवीकेवी प्रसाद ने बताया कि यह मिसाइल 100 प्रतिशत सटीक निशाना लगाएगी। 15 मीटर लंबी व 12 टन वजन की यह मिसाइल एक क्विंटल भार के पारंपरिक तथा परमाणु आयुध ले जाने में समक्ष है। उन्होंने बताया कि परीक्षण अभ्यास के लिए किया गया। इस दौरान रक्षा अनुसंधान व विकास संगठन [डीआरडीओ] के वैज्ञानिकों के अलावा सेना के अधिकारी मौजूद थे। मिसाइल को रेल व सड़क दोनों प्रकार के मोबाइल लांचरों से छोड़ा जा सकता है। इस मिसाइल का पहला परीक्षण 25 जनवरी, 2002 को किया गया था।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर