जम्मू (राज्य ब्यूरो)। बीती रात आधे घंटे के भीतर दो आतंकी हमले हुए। पहला श्रीनगर में सीआरपीएफ के शिविर और दूसरा जम्मू में पुलिस के गश्तीदल पर हुआ। करीब पौने दो साल बाद आतंकियों ने जम्मू में अपनी उपस्थिति दर्ज कराते हुए गुरुवार रात पौने 11 बजे बस अड्डे पर गश्त कर रहे पुलिस के वाहन पर हमला किया। ग्रेनेड से किए गए हमले में दो पुलिसकर्मियों समेत तीन लोग जख्मी हो गए। अंधेरे का फायदा उठाकर आतंकी भागने में सफल रहे। पुलिस ने पूरे क्षेत्र को घेर कर तलाशी अभियान चलाया है।

जानकारी के अनुसार जम्मू में जिस समय हमला हुआ, उस समय पूरे क्षेत्र में बिजली बंद होने के कारण अंधेरा छाया हुआ था। जम्मू के इंस्पेक्टर जनरल ऑफ पुलिस डॉ. एसडी सिंह जम्वाल ने ग्रेनेड हमले की पुष्टि करते हुए कहा कि आतंकवादियों को पकड़ने के लिए पूरे क्षेत्र को घेर लिया गया है। घायलों को जम्मू के राजकीय मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। घायलों की पहचान एसपीओ अर्जुन निवासी शामा चक, कांस्टेबल शाह इसरार निवासी सुरनकोट और जगदेव राज के रूप में हुई है।

पहले दस बजे श्रीनगर में हमला
इससे पहले आतंकियों ने रात करीब सवा दस बजे श्रीनगर के बरारीपोरा स्थित सीआरपीएफ के एक शिविर पर ग्रेनेड से हमला कर दिया। आतंकी हमले का निशाना बना शिविर सीआरपीएफ की 161वीं वाहिनी का है और यह डाऊन-टाऊन में सफाकदल के अंतर्गत बरारीपोरा में है। बताया जाता है कि आतंकियों ने शिविर पर निकटवर्ती गली से ग्रेनेड फेंका, लेकिन ग्रेनेड शिविर के बाहरी परिसर में स्थित संतरी पोस्ट की दीवार से टकराते हुए सड़क पर गिरा और एक जोरदार धमाके के साथ फट गया।

इससे शिविर या शिविर के भीतर मौजूद जवानों को किसी प्रकार का नुकसान नहीं हुआ, लेकिन शिविर के बाहर सड़क पर खड़े चार नागरिक वाहन क्षतिग्रस्त हे गए। इनमें एक स्कूल बस, एक सैंट्रो कार और दो आटो रिक्शा शामिल हैं। सीआरपीएफ के प्रवक्ता ने बताया कि ग्रेनेड हमले के फौरन बाद पूरे इलाके को घेर लिया गया है। स्थानीय पुलिस की मदद से कुछ संदिग्ध मकानों की तलाशी भी ली गई है, लेकिन ग्रेनेड फेंकने वाले आतंकियों का कोई सुराग नहीं मिला है। तलाशी अभियान जारी है।

हमलों के बाद हाईअलर्ट
दो आतंकी हमलों के बाद जम्मू-कश्मीर में हाई अलर्ट कर दिया है। पुलिस ने नाकेबंदी कर दी है। जगह-जगह पर नाका लगाकर गुजरने वाले वाहनों की जांच की जा रही है। गुरुवार रात को जैसे ही बस स्टैंड में पुलिस की गाड़ी पर ग्रेनेड हमले की सूचना पुलिस कंट्रोल पहुंची, तो वहीं से सभी नाकों को वायरलेस पर अलर्ट कर दिया गया। पुलिस नाकों पर कर्मियों की संख्या बढ़ा दी गई। कई अन्य संवेदनशील इलाकों में विशेष नाकेबंदी भी कर दी गई। एसएसपी जम्मू विवेक गुप्ता, एसडीपीओ वरुण जंडियाल, प्रणव महाजन आदि ने भी शहर में लगे नाकों की जांच की।

घटनास्थल के आसपास पुलिस ने घेराबंदी कर दी है। पुलिस ने बस स्टैंड इलाके से देर रात को निकलने वाली गाडि़यों को भी अपनी सुरक्षा के बीच रवाना करवाया। पुलिस ने इस दौरान बसों में सवार यात्रियों से बसों में संदिग्ध या लावारिस वस्तु देखे जाने पर उसे न छूने और तुरंत पुलिस को सूचित करने को कहा। पुलिस ने मौके पर फोरेंसिक एक्सपर्ट को भी बुलाया है ताकि वहां से छर्रों को कब्जे में लेकर उनकी जांच की जा सके।

Posted By: Vikas Jangra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप