जम्मू । सीमा पार से आए आतंकियों ने चौबीस घंटों के भीतर राष्ट्रीय राजमार्ग पर दूसरा फिदायीन हमला किया। जम्मू संभाग के कठुआ में राजबाग थाने पर हमला करने के बाद आतंकियों ने शनिवार सुबह सांबा जिले के महेश्वर में सैन्य शिविर को निशाना बनाया। सेना ने करीब दस घंटे तक चली मुठभेड़ के बाद दोनों आतंकियों को मार गिराया। इसकी पुष्टि सेना की 168 ब्रिगेड के ब्रिगेडियर राकेश सिंह राणा ने की है। उन्होंने बताया कि मारे गए आतंकियों से भारी मात्रा में गोला-बारूद भी मिला है। क्षेत्र में अन्य आतंकियों के छिपे होने की आशंका के चलते सुरक्षा बलों का तलाशी अभियान जारी है।

सैन्य शिविर पर आतंकियों ने सुबह करीब 5.45 बजे हमला किया। दो आतंकियों ने सैन्य शिविर के सामने पहुंचकर अंधाधुंध गोलीबारी करते हुए अंदर घुसने की कोशिश की। गोलीबारी की आवाज सुनते ही सेना ने पूरे इलाके को घेर लिया और मुठभेड़ शुरू हो गई। इस दौरान वहां से श्री माता वैष्णो देवी के दर्शन के लिए जा रहा एक श्रद्धालु भी घायल हो गया। घायल पप्पू निवासी फीरोजाबाद (उप्र) का रहने वाला है। करीब दस घंटे तक चली मुठभेड़ के बाद सेना ने दोनों आतंकियों को ढेर कर दिया। कार्रवाई के दौरान हेलीकॉप्टर की भी मदद ली गई। मारे गए आतंकियों की शिनाख्त नहीं हो पाई है। उनके पाकिस्तानी होने की आशंका है। पता चला है कि पुलिस ने आतंकी हमलों के सिलसिले में दो संदिग्धों को हिरासत में लिया है। उनसे पूछताछ की जा रही है।

उप मुख्यमंत्री डॉ. निर्मल सिंह ने बताया कि पहला फायर सुबह 5.50 मिनट पर हुआ, लेकिन शुक्रवार को हुए हमले के बाद सभी सतर्क थे। इससे आतंकी कोई नुकसान नहीं कर पाए। गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर में पीडीपी-भाजपा सरकार बनने के बाद यह दूसरा आत्मघाती हमला है।

मारे गए आतंकियों से बरामद हथियार

दो एके 47 राइफल, 13 मैगजीन, 12 ग्रेनेड, दर्जनों कारतूस, दो ग्रेनेड लांचर, एक चाइनीज पिस्टल, उसकी दो मैगजीन, बीस राउंड, एक लाइटर, दवाइयों का एक पत्ता, खाने के दो डिब्बे, पेंसिल सेल, टार्च और एक सिरिंज भी बरामद हुई है।

पढ़ें : घाटी में गिरता जा रहा है आतंकियों का मनोबल: पर्रिकर

तोगडि़या ने पीडीपी से गठबंधन पर भाजपा को घेरा

Posted By: Sachin Bajpai

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस