नई दिल्ली। शैक्षणिक योग्यता के मुद्दे पर मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी को घेरने के बाद कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार में केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री गोपीनाथ मुंडे पर निशाना साधा है। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि मुडे ने 1978 में स्थापित हुए कॉलेज से 1976 में ही स्नातक की डिग्री हासिल कर ली थी।

कांग्रेस महासचिव शकील अहमद ने ट्वीट किया है कि सोशल मीडिया में मुंडे की इस शानदार उपलब्धि पर चर्चा गरम है। लोकसभा चुनाव, 2014 के लिए सौंपे हलफनामे में मुंडे ने बताया है कि उन्होंने पुणे के न्यू लॉ कॉलेज से 1976 में बीजेएल की डिग्री हासिल की थी।

मुंडे का यह हलफनामा चुनाव आयोग की वेबसाइट पर उपलब्ध है। न्यू लॉ कॉलेज की वेबसाइट के मुताबिक कॉलेज की स्थापना 1978 में हुई थी।

पढ़ें: स्मृति की योग्यता पर विवाद

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप