नई दिल्ली, प्रेट्र। फायर अलार्म बजने से 160 यात्रियों को लेकर चेन्नई से कुवैत जा रहे इंडिगो फ्लाइट की इमरजेंसी लैंडिंग करानी पड़ी। इसके बाद विमान चेन्नई एयरपोर्ट लौट आया। जांच से पता चला है कि कार्गो कक्ष के खराब स्मोक डिटेक्टर्स से अलार्म बजा था।

एक सूत्र ने बताया कि ए320 विमान ने शुक्रवार तड़के 1.20 बजे कुवैत के लिए उड़ान भरी थी। रवाना होने के 15 मिनट बाद ही फायर अलार्म बजने लगा। इसके बाद पायलट ने तुरंत एयर ट्रैफिक कंट्रोल को आपातकालीन कोड 7700 जारी कर दिया।

विमानन कंपनी के प्रवक्ता ने कहा कि चेन्नई से उड़ान भरने के थोड़ी ही देर बाद 6ई-1751 फ्लाइट संख्या के पायलटों ने कार्गो कक्ष में स्मोक डिटेक्टर पर एक संदेश देखा। प्रवक्ता ने कहा कि एहतियात के तौर पर विमान को चेन्नई एयरपोर्ट पर उतारा गया। सभी यात्रियों को गंतव्य तक पहुंचाने के लिए वैकल्पिक व्यवस्था की गई।

तकनीकी खराबी के कारण विमान उतारा 

15 अक्‍टूबर को इंडिगो के विमान (6ई 344) में सवार यात्री पायलट की सूझबूझ से बाल-बाल बचे। विमान में 150 यात्री सवार थे। विमान में सवार यात्री बेंगलुरु व कोलकाता से रांची आ रहे थे।कोलकाता एयरपोर्ट से उड़ान भरने के 20-25 मिनट बाद ही पायलट विमान में तकनीकी खराबी का अहसास हुआ और पायलट ने तत्काल कोलकाता एयरपोर्ट के एयर ट्रैफिक कंट्रोल (एटीसी) को सूचना दी। वहां से निर्देश मिलने पर विमान को कोलकाता एयरपोर्ट पर ही उतारा।

यात्रियों ने किया था हंगामा 

 पिछले दिनों हैदराबाद के लिए उड़ान भरने वाला स्पाइसजेट का विमान (फ्लाइट संख्या एसजी 732) तकनीकी खराबी के कारण उड़ नहीं सका था। देर रात तक उड़ान न भरने पर स्पाइसजेट प्रबंधन की ओर से उन्हें राजधानी के होटलों में ठहराया गया। उन्हें बुधवार को दोपहर तीन बजे तक हैदराबाद भेजने की बात कही गई। जब तीन बजे तक विमान में आई तकनीकी खराबी को दूर नहीं किया गया तब यात्रियों ने हंगामा करना शुरू कर दिया। वे अपने टिकट वापस कराने के लिए अड़ गए। प्रबंधन की ओर से उन्हें शीघ्र ही विमान ठीक होने की बात कही जा रही थी। 

 

Posted By: Arun Kumar Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप