नई दिल्ली, जेएनएन। देश के 50 करोड़ मोबाइल यूजर्स को बड़ा झटका लग सकता है। जिस आधार नंबर के जरिए आपने नया नंबर लिया है या फिर अपने पुराने नंबर पर ही आधार की जानकारी अपडेट कराई है। अब उसी आधार की वजह से अब आपका नंबर बंद हो सकता है। दरअसल, ये नया खतरा आधार से जुड़ी केवाईसी को लेकर है। खबर के मुताबिक, जिन ग्राहकों ने टेलीकॉम कंपनियों को आधार के साथ कोई दूसरा दस्तावेज नहीं दिया है, उनका नंबर बंद हो सकता है।

क्या है वजह
गौरतलब है कि हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने आधार मामले में सुनवाई करते हुए कहा था कि मोबाइल कंपनियां ग्राहकों से आधार नंबर नहीं मांग सकती हैं। ऐसे में कोर्ट के आदेश के बाद टेलीकॉम कंपनियों को ग्राहकों के आधार से संबंधित डेटा को हटाना होगा। जिस कारण दूसरा कोई वैध दस्तावेज जमा न कराने पर आधार की जानकारी हटने के साथ ही मोबाइल नंबर बंद हो जाएगा।

टेलीकॉम विभाग कर रहा विचार
मोबाइल यूजर्स को किसी तरह की परेशानी ना हो, इसके लिए टेलीकॉम विभाग इस मुद्दे पर विचार कर रहा है। मामले का समाधान निकालने के लिए विभाग दूसरी एजेंसियों के साथ बातचीत भी कर रहा है।

दूरसंचार विभाग की सफाई
हालांकि, इन खबरों के बाद दूरसंचार विभाग और यूआईडीएआई की तरफ से संयुक्त बयान जारी किया गया है। बयान में कहा गया कि मीडिया में 50 करोड़ मोबाइल नंबर बंद होने की खबरें चल रही हैं। ये खबरें पूरी तरह झूठी और काल्पनिक हैं।

Posted By: Manish Negi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस