सुकमा, जेएनएन। नक्सल समस्या पर गृहमंत्री अमित शाह की बैठक के एक दिन बाद ही छत्तीसगढ़ पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। छत्तीसगढ़ पुलिस ने बेहद नक्सल प्रभावित इलाके सुकमा से पांच नक्सलियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस को इनके पास से भारी मात्रा में खतरनाक विस्फोटक बरामद हुए हैं। इनके पास से बरामद विस्फोटक का इस्तेमाल लैंड माइन्स समेत अन्य तरह के खतरनाक धमाकों के लिए किया जाता है। पुलिस के अनुसार नक्सली अगर अपनी साजिश में कामयाब हो जाते तो बड़ी तबाही हो सकती थी।

मालूम हो कि केंद्र सरकार व राज्य सरकार द्वारा नक्सल प्रभावित इलाकों में बड़े पैमाने पर नक्सल उन्मूलन अभियान चलाया जा रहा है। गृहमंत्री अमित शान ने सोमवार को ही नक्सल समस्या से ग्रसित 10 राज्यों के मुख्यमंत्रियों संग बैठक कर अभियान की प्रगति का जायजा लिया था। बैठक में उन्होंने नक्सल समस्या से निपटने के नए तरीकों पर भी चर्चा की थी। इस दौरान उन्होंने अभियान में तेजी लाने वाले और नक्सल समस्या को जड़ से खत्म करने वाले प्रयासों में तेजी लाने के निर्देश दिए थे।

इसके एक दिन बाद ही मंगलवार को छ्त्तीसगढ़ में नक्सल उन्मूल अभियान पर काम करने वाली विशेष पुलिस टीम को बड़ी कामयाबी मिली है। पुलिस ने सुकमा इलाके से पांच आतंकियों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस के अनुसार गिरफ्तार नक्सली बम इंप्लांट की साजिश कर रहे थे। भेजी थाना के डीआरजी प्रभारी उप निरीभक कृष्णचंद्र सिदार ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर नक्सलियों को गिरफ्तार करने में कामयाबी मिली है। नक्सलियों की धरपकड़ के लिए पूरे इलाके में डीआरजी टीम द्वारा लगातार सख्त अभियान चलाया जा रहा है। टीम को इन नक्सलियों को गिरफ्तार करने में उस वक्त कामयाबी मिली जब वह एलारमड़गू की तरफ जा रही थी।

रास्ते में टीम को कुछ संदिग्ध गतिविधि नजर आई। पुलिस टीम ने घेराबंदी कर उन्हें मौके से गिरफ्तार कर लिया है। तलाशी में गिरफ्तार नक्सलियों के पास से 20 मीटर तार, 12 पीस पेंसिल सेल, तीन जिलेटिन रॉड और बम बनाने का अन्य सामान बरामद हुआ है। गिरफ्तार नकस्लियों की पहचान करतम कोसा उर्फ डाकी, माड़वी हुंगा, पोड़ियम सूला, माड़वी गंगा और कवासी हुंगा के रूप में हुई है। पांचों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया गया। न्यायालय ने सभी को जेल भेज दिया है।

Posted By: Amit Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप