राज्य ब्यूरो, लखनऊ। सपा परिवार में महासंग्राम के दौर में बतौर प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव द्वारा जारी 393 प्रत्याशियों की सूची और अब शुक्रवार को राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की ओर से जारी 208 प्रत्याशियों में 40 ऐसे नाम हैं, जिन्हें टिकट नहीं मिला है।

शिवपाल यादव ने मीरापुर से शहनवाज राणा को टिकट दिया था, जबकि सपा अध्यक्ष की सूची में लियाकत अली का नाम है। ऐसे ही थाना भवन से किरण पाल कश्यप को टिकट दिया गया जिनके स्थान पर सुधीर पंवार को टिकट मिला है। शिवपाल ने सरधना से मैनपाल सिंह को टिकट दिया था, अखिलेश ने अतुल प्रधान को प्रत्याशी बनाया है।

अखिलेश के प्रति कठोर मुलायम, भेंट करने पहुंचे सीएम पांच मिनट में ही लौटे

शिवपाल ने मेरठ से अयूब अंसारी को टिकट दिया था, अखिलेश की पसंद रफीक अंसारी रहे। मुख्यमंत्री ने जमीन कब्जे के आरोप में बिसवां के विधायक रामपाल यादव को पार्टी से निकाल दिया था, शिवपाल ने उन्होंने दोबारा पार्टी में टिकट भी दे दिया था। नई सूची में उनका टिकट कट गया है। शिवपाल ने नोएडा से अशोक चौहान को टिकट दिया था जबकि शुक्रवार को जारी सूची में इस सीट से सुनील चौधरी को प्रत्याशी बनाया गया है।

दोनों सूचियों की तुलना से साफ है कि गाजियाबाद, गौमतबुद्धनगर, बुलंदशहर, अलीगढ़, मथुरा, आगरा की सीटों से शिवपाल यादव की ओर से घोषित प्रत्याशियों को बदल दिया गया। मशहूर गीतकार गोपाल दास नीरज की नजदीकी रिश्तेदार को भी सूची में स्थान नहीं मिला है। पूर्व की सूची में अमापुर से टिकट पाने में कामयाब राहुल पांडेय को भी प्रत्याशियों की सूची में स्थान नहीं मिला। वह महिला आयोग की प्रभावशाली सदस्य अशोक पांडेय के बेटे हैं।

यूपी चुनाव 2017: सपा-कांग्रेस के बीच अब उम्मीदों का गठबंधन

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस