नई दिल्ली, एएनआइ। देश में जारी तीसरे फेज के वैक्सीनेशन के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने तीन दिनों के भीतर सभी राज्यों व केंद्रशासित प्रदेशों को वैक्सीन के 38 लाख डोज वाली अगली खेप मिलने की पुष्टि की है। बता दें कि संक्रमण के मामलों की रफ्तार देश में अब कम होती जा रही है लेकिन मृतकों का आंकड़ा अभी भी ज्यादा है। इस क्रम में देश में कोरोना वैक्सीनेशन तेजी से किया जा रहा है।

अब तक देश के सभी राज्यों व केंद्रशासित प्रदेशों को कुल 25.60 करोड़ वैक्सीन की खुराकें दी गई। वैक्सीन की इस खेप को भारत सरकार व सीधे राज्यों के वैक्सीन कैटेगरी में भेजा गया। इसमें कुल खपत व नुकसान हुए खुराकों का आंकड़ा 24,44,06,096 है। यह जानकारी केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Union Health Ministry) ने शुक्रवार को दी। मंत्रालय ने बताया कि राज्यों व केंद्रशासित प्रदेशों में अभी 1.17 करोड़ से अधिक खुराकें बची हुई है। 38 लाख से अधिक वैक्सीन की खेप अगले 3 दिनों के भीतर सभी राज्यों व केंद्रशासित प्रदेशों को मिलेंगी।

इससे पहले गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को स्वास्थ्य विशेषज्ञों की ओर से सलाह दिया गया कि जो लोग कोरोना संक्रमित थे और अब ठीक हो गए हैं तो उन्हें वैक्सीन लेने की जरूरत नहीं है। विशेषज्ञों ने बताया कि व्यापक पैमाने पर अंधाधुंध और अपूर्ण वैक्सीनेशन भी घातक कोरोना वायरस के म्यूटेंट स्वरूपों का कारण हो सकता है। यह रिपोर्ट इंडियन पब्लिक हेल्थ एसोसिएशन, इंडियन एसोसिएशन आफ एपिडेमोलाजिस्ट्स और इंडियन एसोसिएशन आफ प्रिवेंटिव एंड सोशल मेडिसिन के विशेषज्ञों ने तैयार किया है। दिए गए सलाह के अनुसार संक्रमण के आधार पर ही वैक्सीनेशन किया जाए।

गुरुवार को मंत्रालय की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार अब तक देशभर में वैक्सीन की कुल 24.58 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी हैं। देशभर में 16 जनवरी से वैक्सीनेशन का अभियान शुरू हुआ था जिसे चरणबद्ध तरीके से किया जा रहा है। अभी देश में तीसरा चरण चल रहा है जो एक मई से शुरू हुआ।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप