अहमदाबाद, जेएनएन : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुरुवार को 36वें राष्ट्रीय खेलों का आगाज करते हुए कहा कि अतीत में खिलाड़ी परिवारवाद और भ्रष्ट्राचार के कारण अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सके और हमने सत्ता में आने पर इस व्यवस्था को ठीक किया। गुजरात की तैराक माना पटेल ने टार्च को प्रधानमंत्री मोदी को दी। फिर प्रधानमंत्री ने टार्च को पोडियम पर रख दिया जिससे यह जगमगाती रहे।

उन्होंने यहां नरेन्द्र मोदी स्टेडियम में रंगारंग कार्यक्रम के बीच पूर्ववर्ती सरकारों पर निशाना साधते हुए कहा कि परिवारवाद और भ्रष्टाचार के कारण ही भारत के खिलाड़ियों को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ज्यादा मौके नहीं मिल पाए लेकिन अब इसमें काफी बदलाव आया है।

दुनिया में सम्मान का खेलों से सीधा जुड़ाव होता है: पीएम मोदी

उन्होंने कहा कि दुनिया ओलंपिक के जिन खेलों की दीवानी है, वे खेल हमारे यहां पहले सामान्य ज्ञान तक सिमट कर रह गए थे। अब माहौल नया है, 2014 से खिलाडि़यों ने खेलों में जो जलवा कायम करना शुरू किया, वह तेजी से आगे बढ़ते जा रहा है। मोदी ने विकसित देशों का उदाहरण देते हुए कहा कि वैश्विक खेलों में ऐसे देशों के खिलाड़ी अधिक पदक जीतते हैं। मोदी ने कहा कि दुनिया में सम्मान का खेलों से सीधा जुड़ाव होता है। आज दुनिया में जो देश विकास और अर्थव्यवस्था में शीर्ष पर हैं, उनमें से ज्यादातर पदक तालिका में भी शीर्ष पर होते है।

उन्होंने कहा कि खेल के मैदान में खिलाड़ियों का दमदार प्रदर्शन अन्य क्षेत्रों को भी प्रोत्साहित करता है। खेल दुनिया में साफ्ट पावर का जरिया भी है। गुजरात के छह शहरों में 12 अक्टूबर तक इन खेलों के मैच चलेंगे। मोदी ने यह भी कहा कि आठ साल पहले भारतीय खिलाड़ी 100 से भी कम अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंटों में हिस्सा लेते थे, लेकिन अब 300 से ज्यादा अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंटों में भारतीय खिलाड़ी शिरकत करते हैं। खेलों की थीम 'जुडेगा इंडिया, जीतेगा इंडिया' के पीछे की थीम की प्रशंसा करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि राष्ट्रीय खेल हर युवा के लिए एक लांच पैड के रूप में काम करेंगे।

यह भी पढ़ें: 36th National Games: नेशनल गेम्स का शुभारंभ, पीएम मोदी बोले- जुड़ेगा इंडिया, जीतेगा इंडिया

दिग्गज खिलाड़ी रहे मौजूद

इस दौरान कई दिग्गज भारतीय खिलाड़ी मौजूद रहें जिसमें ओलंपिक चैंपियन नीरज चोपड़ा, पीवी सिंधू, रवि दहिया, मीराबाई चानू, गगन नारंग, पूर्व हाकी कप्तान और नए हाकी इंडिया के अध्यक्ष दिलीप टिर्की, अंजू बाबी जार्ज शामिल थे। उन्होंने इन खेलों को सराहा।

गुजरात की महिला टेनिस टीम ने की विजयी शुरुआत

गुजरात की महिला टेनिस टीम ने गुरुवार को 36वें राष्ट्रीय खेलों में अपनी विजेता ट्राफी के बचाव की शुरुआत तेलंगाना पर शानदार जीत के साथ की, जबकि बंगाल की महिला लान बाउल्स टीम ने असम पर 12-11 से रोमांचक जीत के साथ अपनी लय बरकरार रखी। साबरमती रिवरफ्रंट खेल परिसर में तेलंगाना के विरुद्ध 2-0 की जीत दर्ज करने के दौरान गुजरात महिला टेनिस टीम ने सिर्फ चार गेम गंवाए। फाइनल में जगह बनाने के लिए अब उनका सामना कर्नाटक से होगा। दूसरे सेमीफाइनल में महाराष्ट्र का मैच तमिलनाडु से होगा। महाराष्ट्र ने दिल्ली को 2-0 से हराया जबकि तमिलनाडु ने हरियाणा को शिकस्त दी।

दूसरे स्थान पर रहे ओलंपिक पदक विजेता निशोनबाज विजय कुमार 

निशानेबाजी में 2012 ओलंपिक खेलों के रजत पदक विजेता विजय कुमार (हिमाचल प्रदेश) ने दबाव कर परिस्थितियों से अच्छी तरह निपटा और वह 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल प्रतियोगिता के शुरुआती चरण के बाद अंकुर गोयल (उत्तराखंड) से पीछे दूसरे स्थान पर हैं। पुरुषों के इस स्पर्धा में लय में चल रहे अनीश भानवाल (हरियाणा) तीसरे स्थान पर हैं। कार्तिक सबरी राज (तमिलनाडु) ने पुरुषों के 10 मीटर एयर राइफल क्वालिफिकेशन में 632.2 अंकों के साथ शीर्ष स्थान हासिल किया।

उन्होंने ऐश्वर्या तोमर (मध्य प्रदेश) रुद्राक्ष बी पाटिल (महाराष्ट्र), दिव्यांश सिंह पंवार (राजस्थान), हृदय हजारिका (असम) और अर्जुन बबुता (पंजाब) जैसे खिलाडि़यों को पीछे छोड़ा। महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल क्वालीफिकेशन में तिलोत्तमा सेन (कर्नाटक) 633.6 अंकों के साथ शीर्ष पर रहीं। श्रीयंका सदांगी (ओडिशा), युक्ति राजेंद्र (कर्नाटक) 629.3 और नैन्सी (हरियाणा) जैसे निशानेबाज इलावेनिल वलारिवन (गुजरात) और मेहुली घोष (बंगाल) जैसे नामों को पीछे छोड़ने में सफल रहे।

यह भी पढ़ें: मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने नेशनल गेम्स ओपनिंग सेरेमनी पर स्पोर्ट्स कॉन्क्लेव का उद्घाटन किया

Edited By: Piyush Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट