अनंतपुर। आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले में शनिवार तड़के बेंगलूर-नांदेड़ एक्सप्रेस ट्रेन के एसी कोच में आग लग जाने से उसमें सो रहे 26 यात्री जिंदा जल गए। इनमें दो बच्चे भी शामिल हैं। जबकि 13 अन्य लोग घायल भी हुए हैं। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने इस घटना पर गहरा दुख व्यक्त किया है।

श्री सत्य साई प्रशांति निलयन स्टेशन के पास सुबह तीन बजकर 45 मिनट पर इंजन से चौथे नंबर पर स्थित कोच बी-1 में आग लग गई। उस समय अधिकांश यात्री सो रहे थे। ड्राइवर की सूझबूझ से अन्य बोगियों में आग नहीं फैल पाई। दरअसल, आग देखने के बाद ड्राइवर ने कोताचेरुवु स्टेशन के पास ट्रेन रोक दी और आग वाले कोच को अलग किया गया। अनंतपुर के पुलिस अधीक्षक एस सेंथिल कुमार ने बताया कि इस घटना में 26 लोग मारे गए हैं और बचाव कार्य चल रहा है। गुंताकल रेलवे पुलिस के एसपी जनार्दन ने बताया कि दुर्घटना में घायल हुए लोगों को अनंतपुर के विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। आग लगने के कारणों का अभी पता नहीं चल सका है।

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन अरुनेंद्र कुमार ने कहा कि प्रथम दृष्टया ऐसा लगता है कि आग शॉर्ट सर्किट या फिर कोच में कोई ज्वलनशील वस्तु से लगी होगी। वहीं प्राथमिक रिपोर्टो का हवाला देते हुए रेल मंत्री मल्लिकार्जुन खड़गे ने भी कहा है कि आग लगने का कारण शॉर्ट सर्किट हो सकता है। रेल मंत्री ने दुर्घटना में मारे गए लोगों के निकटतम संबंधियों को पांच-पांच लाख रुपये, गंभीर रूप से घायल लोगों को एक लाख रुपये और मामूली रूप से घायल लोगों को 50 हजार रुपये देने की घोषणा की है।

उन्होंने रेलवे सुरक्षा आयुक्त को इस घटना की जांच का आदेश दिया है। हैदराबाद से फोरेंसिक टीमें घटनास्थल पर पहुंच रही हैं। वे वहां से नमूने लेकर उनका विश्लेषण करेंगी। दक्षिण पश्चिम रेलवे की ओर से बताया गया है कि ट्रेन शुक्रवार रात को 10 बजकर 45 मिनट पर बेंगलूर से रवाना हुई थी। इसमें 16 डिब्बे थे। आग से प्रभावित डिब्बे में 65 यात्री यात्रा कर रहे थे। रेलवे अधिकारियों के मुताबिक मृतकों के शवों को घटनास्थल से बेंगलूर के विक्टोरिया अस्पताल में लाया जा रहा है।

हेल्पलाइन नंबर

बेंगलूर : 080-22354108, 22259271, 22156551, 22156554

एसएसपी निलायम स्टेशन : 085-55280125, 09731666863

पढ़ें : इलाज से पहले ट्रेन में तोड़ा दम

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर